राहुल और प्रियंका गांधी को मेरठ जाने से रोका गया, गुस्साए कार्यकर्ताओं ने मेरठ में दिया धरना

0
42

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ पूरे देश में विरोध चल रहा है | वहीँ इस विरोध के चलते अब तक कई लोग अपनी जान गवां चुके हैं | उत्तर प्रदेश के कई जिलों में हिंसात्मक प्रदर्शन किया गया जिसके बाद कई लोगो को जान गवानी पड़ी | वहीँ उत्तर प्रदेश के मेरठ में भी उग्र प्रदर्शन किया गया | जिसमे कई लोगो की जान गई | वहीँ आज कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी और प्रियंका गाँधी हिंसा में मारे गए लोगो के परिजनों से मिलने मेरठ जा रहे थे लेकिन उत्तर प्रदेश पुलिस ने उन्हें रोक लिया है |

धारा 144 का हवाला देकर प्रशासन ने दोनों को वापस भेज दिया | जिसके बाद वह परतापुर से ही वापस आ गए | बता दें कि राहुल-प्रियंका की तरफ से सिर्फ तीन लोगों के अंदर जाने की इजाजत मांगी गई लेकिन अभी तक पुलिस ने उन्हें नहीं जाने दिया है | मेरठ में नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ हुए प्रदर्शन के दौरान जो हिंसा हुई थी, उसमें चार लोगों की मौत हो गई थी | वहीँ मेरठ एडीजी प्रशांत कुमार का कहना है कि मेरठ में 144 धारा लागू है, प्रियंका और राहुल को बताया गया कि काफी भीड़ वाला इलाका है | ऐसे में अगर शांति भंग होती है, तो जिम्मेदारी उनकी ही होगी | जिसके बाद राहुल-प्रियंका मेरठ के परतापुर इलाके से वापस हो गए |

इस सब की जानकारी के बाद मेरठ में कांग्रेस कार्यकर्ता धरने पर बेथ गए हैं | उन्होंने ये धरना इसलिए दिया है क्योंकि राहुल गाँधी और प्रियंका गाँधी को मेरठ के बाहर ही रोक लिया गया |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here