Wednesday, January 20, 2021

देश में आज ट्रेड यूनियन की हड़ताल, बिहार में RJD भी सड़क पर उतरी….

Must read

आगामी 2022 विधानसभा चुनाव से प्रेरित हो सकता है इस बार का बजट?

उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सभी की नजर योगी सरकार के अगले बजट पर है। ऐसे में इस बजट को सबसे...

ट्रम्प के लगाए इस प्रतिबंध के फैसले को वापस लेंगे बिडेन, जानें क्या करेंगे बदलाव

वाशिंगटन,  अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति जो बिडेन ने अपने पूर्ववर्ती डोनाल्ड ट्रम्प की ओर से कई मुस्लिम देशों पर लागू यात्रा प्रतिबंध को हटाये...

सुप्रीम कोर्ट पालघर लिंचिंग की सुनवाई करेगी अब 17 फरवरी के बाद

नयी दिल्ली : उच्चतम न्यायालय ने महाराष्ट्र के पालघर में दो साधुओं एवं एक ड्राइवर की पीट-पीट कर हुई हत्या की जांच केंद्रीय जांच...

Corona vaccine कोविड-19 से जंग के लिए प्रभावी हथियार-सिंह देव

Corona vaccine  रायपुर, छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टी.एस सिंहदेव ने कहा कि Corona vaccine कोविड-19 से जंग के लिए प्रभावी हथियार हैं। Corona vaccine अभियान...

ट्रेड यूनियंस की तरफ से बुलाई गई हड़ताल का असर आज देश भर में देखने को मिल रहा है. बिहार में ट्रेड यूनियन की हड़ताल को विपक्षी दलों ने अपना समर्थन दिया है. आरजेडी के कार्यकर्ता भी सुबह से कई जगहों पर सड़क पर उतरकर बंद को सफल बना रहे हैं. आरजेडी के अलावे माले ने भी बंद का समर्थन किया है और उनके कार्यकर्ता भी ट्रेड यूनियन के साथ मिलकर बंद करा रहे हैं.

ट्रेड यूनियंस का दावा है कि आज की हड़ताल में तकरीबन 26 करोड़ वर्कर काम नहीं करेंगे जिसकी वजह से लगभग हर क्षेत्र में कामकाज प्रभावित होगा. हड़ताल में बैंक भी शामिल हैं, लिहाजा बिहार में आज बैंक बंद है. राज्य के अंदर बैंकों की कुल 6088 शाखाएं बंद होने की वजह से 4 लाख करोड का कारोबार प्रभावित होने की आशंका है.

राज्य भर में भारतीय स्टेट बैंक को छोड़ सभी बैंकों में काम प्रभावित रहेगा. ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स एसोसिएशन के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट डॉ कुमार अरविंद ने बताया कि देशभर के नौ सेंट्रल ट्रेंड यूनियन की तरफ से बुलाये गए हड़ताल में उनका संगठन शामिल है. देशभर के अलग-अलग सेक्टर के कुल करीब 26 करोड़ कामगार हड़ताल पर हैं. राज्य में बैंक के यूनियन में मुख्य रूप से ऑल इंडिया बैंक, ऑफिसर्स एसोसिएशन, ऑल इंडिया बैंक इम्प्लाइज एसोसिएशन और बेफी से जुड़े बैंककर्मी शामिल रहेंगे. सभी यूनियन हड़ताल में मुख्य रूप से बैंक के निजीकरण न होने, मजदूरों के खिलाफ कानून न बनाने पर रोक लगाने, कृषि बिल में सुधार और बेरोजगारी भत्ता देने समेत अन्य मांगों पर आवाज बुलंद करेंगे.

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

पुड्डुचेरी में अंतिम मतदाता सूची का प्रकाशन , महिला मतदाताओं की संख्या अधिक

पुड्डुचेरी , केंद्रशासित प्रदेश पुड्डुचेरी में मतदा अधिकता सूची के पुनरीक्षण के बाद कुल मतदाताओं की संख्या 10 लाख 03 हजार 681 दर्ज की गयी...

इटली में कोंटे ने हासिल किया विश्वास मत

रोम , इटली में प्रधानमंत्री गिउसेप कोंटे के नेतृत्ववाली सरकार ने सीनेट में विश्वास मत हासिल कर लिया है। स्थानीय मीडिया ने मंगलवार को इपनी...

पुलिस ने की छापेमारी बड़ी मात्रा में नकली घी बनाने की सामग्री की गई जप्त

दतिया,  मध्यप्रदेश के दतिया जिले के सेवढ़ा के दबेरा गांव में जिला प्रशासन के उड़नदस्ते ने छापामार कर नकली घी बनाने की सामग्री जप्त...

योगी सरकार घटायेगी विभाग, करायेगी बेहतर काम

उत्‍तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government) प्रशासनिक सुधार (Administrative Reform) की दिशा में बड़ा कदम उठाने की तैयारी कर रही है. मौजूदा 95...

अमेरिकी हितों के लिए रूस के साथ नयी स्टार्ट संधि का विस्तार : ल्योड ऑस्टिन

वाशिंगटन, अमेरिका के रक्षा विभाग मुख्यालय पेंटागन के प्रमुख ल्योड ऑस्टिन ने कहा है कि अमेरिकी हितों के लिए रूस के साथ पहले से...