Friday, February 26, 2021

कारगिल में पर्यटन की हैैं अपार संभावनाएं : पटेल

Must read

राष्ट्रीय शिक्षा नीति को लेकर पोखरियाल ‘निशंक’ ने कही ये बात

केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने कहा कि शिक्षा का सार तथ्यों का संग्रह ही नहीं बल्कि मन की एकाग्रता भी है...

45 रनों पर सिमटी भारत की पहली पारी

अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेले जा रहे तीसरे टेस्ट में इंग्लिश टीम ने शानदार वापसी करते हुए भारत को उसकी पहली पारी...

बेगूसराय में दिव्यांग की गोली मारकर हत्या, सामने आयी चौकाने वाली वजह

बेगूसराय,  बिहार में बेगूसराय जिले के सिंघौल थाना क्षेत्र में अपराधियों ने एक दिव्यांग की गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस सूत्रों ने बुधवार को...

आवारा पशुओं के पुनर्वास के लिए संचालित कान्हा योजना – सुरेश खन्ना

कोरोना काल में सरकार ने एकजुट होकर कार्य किया। पहली बार शहरी क्षेत्र के मजदूरों के लिए 10,35,000 राशन कार्ड बनाए गए। वहीं,...

नई दिल्ल : हाल ही में जम्मू-कश्मीर से अलग होकर लद्दाख केन्द्रशाषित प्रदेश बना है। इससे पहले कभी भी लद्दाख को खासकर कारगिल में कभी भी पर्यटन के क्षेत्र में कुछ नहीं किया गया। जबकि सही मायनों में स्विट्ज़रलैंड से खूबसूरत कारगिल की बर्फ से ढंकी हुई घाटियां हैं। यही नहीं यहां एडवेंचर्स टूरिज्म का काफी स्कोप है, जिसको डेवेलपमेंट का काम मिनिस्ट्री ऑफ टूरिज्म करने जा रहा है। उक्त बातें केंद्रिय पर्यटन मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने नेशनल लेवल इवेंट्स ऑफ एडवेंचर्स टूरिज्म के शुभारंभ के दौरान कहीं।

पटेल ने इस दौरान नकटुल में स्की स्लोपस का शुभारंभ किया। जिसमे करीब 15 स्की खिलड़ियों ने भाग लिया था। इसमें सबसे कम उम्र 10 वर्षीय मुहम्मद से मिलकर पटेल ने उन्हें काफी प्रोत्साहित किया। इस दौरान उन्होंने इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टूरिज्म एंड ट्रेवल मैनेजमेंट, गुलमर्ग जोकि मिनिस्ट्री ऑफ टूरिज्म की ऑटोनोमस बॉडी है उसका एक इंस्टिट्यूट कारगिल में प्रारंभ करने की घोषणा भी की। इसके बाद पटेल मुलबेख में बोधि सत्त्वा जिसे फ्यूचर बुद्धा भी कहते हैं उनके स्टेचू को देखने गए, जिसकी लद्दाख में प्राचीन मान्यता है। वहीं केंद्रीय मंत्री ने बेमथांग आइस स्केटिंग रिंग पहुंचे और आइस हॉकी मैच का शुभारंभ किया।

कारगिल का लड़का लेगा विंटर ओलिंपिक में भाग
कारगिल का 20 वर्षीय लड़का बाकिर भारत का ऐसा पहला प्लेयर है जोकि विंटर ओलिंपिक में देश का प्रतिनिधित्व करेगा। बाकिर ने गुलमर्ग में ट्रेनिंग लिया है और वहीं से उसका सेलेक्शन भी किया गया है।

कारगिल के बुजुर्गों कर रहे हैं युवाओं को प्रशिक्षित
कारगिल के कुछ बुजुर्ग अपने यहां के बच्चों और युवाओं को स्की व आइस हॉकी जैसे खेलों के लिए लंबे समय से प्रशिक्षण दे रहे हैं। अभी तक प्रशासन की और से एक्यूमेंट संबंधी कोई मदद नहीं की जाती थी लेकिन मिनिस्ट्री ऑफ टूरिज्म की घोषणाओं के बाद उन्हें अब आशा जगी है।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

भाजपा राज में जनता कराहने लगी-अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा राज में जनता कराहने लगी है। मंहगाई के चूल्हे...

पुलिस ने की माल में चोरी, देखिए ये वीड़ियो

वर्दी के नीचे कई शर्ट पहन कर चोरी कर ले जा रहा गोमतीनगर विस्तार का चोरकट सिपाही मेटल डिटेक्टर से पकड़ा गया,कर्मचारियों ने की...

पूर्वांचल दौरे पर अखिलेश यादव, कार्यकर्ताओं ने जोरदार किया स्वागत

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव वाराणसी पहुंच गए। वह तीन दिन के पूर्वांचल के दौरे पर आए हैं। वाराणसी एयरपोर्ट...

पारंपरिक ऐपण कलाकृति को मिल रहा नया आयाम

उत्तराखंड की पारंपरिक ऐपण कलाकृति को नया आयाम मिल रहा है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने हालिया दिल्ली दौरे पर केंद्रीय मंत्रियों को ऐपण...

फिल्म ‘गंगूबाई काठियावाड़ी में कैसे ली Alia ने फिल्म में एंट्री

बॉलीवुड फिल्म मेकर संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ (Gangubai Kathiawadi) का टीज़र हाल ही में रिलीज किया गया जिसमें आलिया भट्ट (Alia...