Saturday, April 17, 2021

एसटीएफ ने की छापेमारी भारी मात्रा में अवैध शराब बरामद

Must read

12 से 16 अप्रैल तक इंदौर जिले के समस्त नगरीय निकाय में कोरोना कर्फ्यू घोषित

प्रातः 6:00 से 10:00 बजे तक खुली रहेंगी फल, सब्जी, किराना एवं दूध की दुकानें इंदौर 11 अप्रैल,2021इंदौर में कोरोना संक्रमण बढ़ते हुये मामलों को...

कोरोना के चलते विधानसभा उपचुनाव का प्रचार नहीं चढ़ पा रहा है परवान

जयपुर  राजस्थान में वैश्विक महामारी कोरोना एवं बड़े नेताओं की चुनाव सभाएं अभी नहीं होने के चलते आगामी सत्रह अप्रैल को होने वाले तीन...

मुंडे ने अंबेडकर जयंती पर सरकार के मानदंडों का पालन करने की अपील की

मुंबई  महाराष्ट्र के सामाजिक न्याय मंत्री धनंजय मुंडे ने भारत रत्न डॉ. बाबासाहेब अम्बेकडर की 130वीं जयंती की बधाई देते हुए इसे साधारण तरीके...

अफगानिस्तान से 11 सितंबर तक हम अपने जवानों को वापस बुला लेंगे: बाइडेन

वाशिंगटन  अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने बुधवार को घोषणा की कि अमेरिका 11 सितंबर तक अफगानिस्तान से अपने सैनिकों को वापस बुला लेगा।  बाइडेन...

जनपद शामली में मेरठ से आई एसटीएफ और शामली पुलिस की संयुक्त टीम ने छापेमारी करते हुए 159 पेटी अवैध अंग्रेजी व देशी शराब बरामद की है, जिसकी कीमत करीब 6 लांख 50 हज़ार रुपए बताई जा रही है। एसटीएफ की टीम ने शराब तस्करी करने वाले दो तस्करों को भी गिरफ्तार किया है, जबकि तस्करों के दो अन्य साथी मौके से फरार होने में कामयाब रहे जिनकी तलाश के लिए लगातार दबिश दी जा रही है। एसटीएफ की टीम ने नगदी व तस्करी करने में इस्तेमाल की जा रही ट्रॉली को भी बरामद किया है। दरअसल आपको बता दें कि पूरा मामला जनपद शामली के झिंझाना थाना क्षेत्र के गांव सापला का है जहां पर आज मेरठ से आई एसटीएफ की टीम और शामली पुलिस ने संयुक्त रूप से छापेमारी करते हुए 159 पेटी अवैध अंग्रेजी में देसी मार का शराब के साथ दो शराब तस्करों को गिरफ्तार किया है जबकि दो शराब तस्कर पुलिस को चकमा देकर मौके से फरार हो गए जिंदगी तलाश में लगातार दबिश दी जा रही है मौके से पकड़ी गई शराब की कीमत करीब 6 लांख 50 हज़ार रुपए बताई जा रही है। गांव से बरामद की गई शराब हरियाणा से तस्करी कर लाई गई थी। जिसे तस्करों द्वारा आने वाले ग्राम पंचायत के चुनाव में इस्तेमाल किया जाना था। पुलिस और एसटीएफ की टीम ने तस्करों के पास से 27 हज़ार रुपए की नकदी तथा शराब तस्करी करने में इस्तेमाल की जाने वाली ट्रॉली को भी बरामद किया है। फिलहाल पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ सुसंगत धाराओं में अभियोग पंजीकृत कर लिया है और आगे की वैधानिक कार्यवाही में जुट गई है साथ ही पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए दोनों शराब तस्करों का आपराधिक इतिहास भी खंगाला जा रहा है बताया जा रहा है कि आने वाले ग्राम पंचायत के चुनाव के मद्देनजर शराब की खेप गांव में लाई गई थी और एक स्टॉक ग्राम पंचायत चुनाव के लिए लगाया जा रहा था लेकिन सबसे बड़ा सवाल यह है कि पुलिस की नाक के नीचे शराब तस्कर भारी मात्रा में शराब गांव में लाने में आखिर कामयाब कैसे हो गए।

- Advertisement -

More articles

Latest article

आईपीएल टी-20 क्रिकेट मैच पर सट्टा लगाते तीन गिरफ्तार

सिरसा,  हरियाणा की सिरसा सीआईए पुलिस ने राजस्थान रॉयल्स और दिल्ली कैपिटल के बीच आईपीएल टी-20 क्रिकेट मैच पर सट्टा लगाने के आरोप में...

नायडू ने के. सुब्बा राव के निधन पर शोक व्यक्त किया

नयी दिल्ली  उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने प्रसिद्ध रेडियोलॉजिस्ट डॉ. के. सुब्बा राव के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है। नायडू ने शुक्रवार को...

UP में कहर अब 24 घंटे में 27,426 कोरोना के नए मामले, 103 की मौत

लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में एक बार फिर कोरोना अपने पैर पसार रहा है. हालात अब बद से बदतर होते दिख रहे हैं. मरीजों...

तृणमूल नेता भूइंया, मित्रा को ईडी ने किया समन

कोलकाता,  पश्चिम बंगाल में अलग-अलग चिट फंड घोटालों के मनी ट्रेल्स की जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस नेता मानस...

जानिए कैसी है इस वक्त अखिलेश यादव की तबीयत।

  सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव अभी हाल ही में कोरोना संक्रमित हुए हैं, इस वक्त अखिलेश यादव होम आइसोलेशन में है और डॉक्टरों की सलाह...