Saturday, May 15, 2021

फंस गए कुमारस्वामी, फोन टैपिंग पर सामने आयी बड़ी गवाही

Must read

आज आखिरी रोजा, जुमे की नमाज के साथ 14 मई को मनाई जाएगी ईद

 नई दिल्‍ली. रमजान (Ramadan) का महीना पूरा होने पर दुनियाभर में ईद-उल-फितर (Eid-Al-Fitr 2021) मनाया जाता है, जो कि मुसलमानों का सबसे बड़ा त्‍योहार है....

महराजगंज में कार ट्रक टक्कर में पांच की मौत,तीन घायल

महराजगंज  उत्तर प्रदेश में महराजगंज के फरेंदा-महराजगंज मार्ग पर करहिया के पास हाईवे पर सोमवार कर देर रात बरातियों से भरी कार की सामने...

मुलायम की मदद से बनेगा ऑक्सीजन प्लांट

कोविड-19 के संक्रमण की वजह से संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ रही है।  मरीज बढ़ने से ऑक्सीजन की किल्लत होने लगी है। इसका समाधान...

Mother’s Day 2021: माँ बच्चे को कैसे बचाए कोरोना से जाने टिप्स

नई दिल्ली,  Mother's Day 2021: हर साल मई महीने के दूसरे रविवार को मदर्स डे यानी मातृत्व दिवस मनाया जाता है। इस साल 9...

टेलीफोन इंटरसेप्शन मामले में फंसे जनता दल सेक्युलर (JDS) के नेता एचडी कुमारस्वामी (HD Kumarswamy) की मुश्किलें बढ़ गई हैं। उनकी अपनी पार्टी के ही नेता उनको सजा देने के समर्थन में खड़े हैं। कर्नाटक (Karnataka) की गुब्बी विधानसभा के विधायक और जेडीएस नेता एसआर श्रीनिवास(SR Srinivas) ने बयान में कुमारस्वामी को देने की बात कही है। उन्होंने कहा ”एचडी कुमारस्वामी फोन टैपिंग में शामिल थे या भ्रष्टाचार के जरिए पैसा कमाने में शामिल थे, उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाए। इसमें कुछ गलत नहीं है।”

गुब्बी विधानसभा के विधायक एसआर श्रीनिवास ने सरकार को निष्पक्ष होने को कहा है। उन्होंने कहा ‘अगर कुमारस्वामी ने मुख्यमंत्री के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान अवैध टेलीफोन इंटरसेप्शन का आदेश दिया हो, तो उन्हें जेल भेज देना चाहिए।’ उन्होंने कहा कि ‘क्या कुमारस्वामी को गिरफ्तार नहीं करने का कोई नियम है? मेरी जानकारी के अनुसार, टेलीफोन पर बातचीत उनके कार्यकाल के दौरान अवैध रूप से बाधित हुई थी। मेरा फोन भी उनमें से एक था जो टैप किया गया था। कुमारस्वामी को शायद मुझ पर भी शक था। जिसने भी गलती की है उसे दंडित किया जाना चाहिए।’ श्रीनिवास ने कहा, ‘मुझे नहीं पता कि इसके पीछे कुमारवामी थे या दूसरे अधिकारी थे। मेरे पास सूचना है कि फोन टैप किए जा रहे थे। जैसे ही मुझे पता चला, मैंने अपना नंबर बदल दिया।’

कुमारस्वामी पर फोन टैप करने का आरोप

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा (Bs Yedyurappa) ने पिछले महीने केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) को कुमारस्वामी पर आरोपों की जाँच की सिफारिश की थी। कुमारस्वामी पर आरोप लगा है कि उनके नेतृत्व वाली सरकार में टेलीफोन इंटर्सेप्शन हुआ था। कई विपक्षी नेताओं, सत्तारूढ़ पार्टी के नेताओं, उनके रिश्तेदारों और लोक सेवकों के फोन टैप किए जाने की बात हुई थी। एएच विश्वनाथ ने सबसे पहले कुमारस्वामी सरकार पर फोन टैप करने का आरोप लगाया था। उन्होंने कुमारस्वामी पर 300 से अधिक लोगों की जासूसी करने का आरोप लगाया था। मामले में सिद्धारमैया, एम मल्लिकार्जुन खड़गे और महागठबंधन सरकार में गृह मंत्री रहे एमबी पाटिल सहित कांग्रेस नेताओं ने जांच की मांग की थी। वहीँ कई भाजपा नेताओं ने कुमारस्वामी पर इस प्रकरण में सीधे आरोप लगाया था।

- Advertisement -

More articles

Latest article

आज़म खां की पत्नि ने दिया बड़ा बयान

रामपुर...... शहर विधायक एवम् आज़म खां की पत्नि डॉ तज़ीन फातिमा ने ईद के मौक़े पर कहा कि त्योहार ख़ुशी के लिए मनाये जाते...

बच्चों में कोविड-19 – क्या होते हैं लक्षण, क्या किया जाए

नई दिल्ली. एक तरफ जहां वयस्क और बुजुर्गों में कोविड-19 वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) के लिए होड़ मची हुई है, वहीं फिलहाल एक वर्ग ऐसा भी...

तमिलनाडु और असम में नए मंत्रियों पर कितने हैं आपराधिक केस और कितनी है संपत्ति उनकी, जानें

असम में हुए ताजा चुनावों में 7 फीसद मंत्रियों ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किए हैं। वहीं 14 मंत्रियों की औसतन संपत्ति 4.78...

असम के नगांव में आकाशीय बिजली गिरने से 18 हाथियों की मौत

गुवाहाटी. असम (Assam) के नगांव जिले (Nagaon) में जंगल में आकाशीय बिजली गिरने से 18 हाथियों (Elephants) की मौत हो गई. वन विभाग के एक...

जब असम पहुंचे बंगाल के गवर्नर धनखड़ तो पैरों में गिर पड़ी महिलाएं, जानें वजह

गुवाहाटी-पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने रणपगली में कैंप का दौरा किया और लोगों से मुलाकात की। चुनाव के बाद पश्चिम बंगाल में...