Tuesday, November 24, 2020

370 हटने के बाद की पहली मुठभेड़ का ये हुआ हश्र, अब घर घर जाएंगे अफसर

Must read

M.P : वन विहार का 27वां मान्यता दिवस आज, बर्ड वाचिंग कैम्प एवं नेचर वॉक का होगा आयोजन

भोपाल : राजधानी भोपाल के राष्ट्रीय उद्यान-जू, वन विहार का 27वां मान्यता दिवस आज (मंगलवार को) धूमधाम से मनाया जाएगा। इस अवसर पर वन्य...

Bollywood : फिल्मी पार्टीज में जाना पसंद नहीं करते अक्षय कुमार, जाने क्या है इसके पीछे की वजह

नई दिल्ली : बॉलीवुड के खिलाड़ी अक्षय कुमार (akshay kumar) इन दिनों अपनी आगामी फिल्म 'लक्ष्मी' (laxmii) को लेकर खूब चर्चा में बने हुए...

कोरोना की वजह से हुए नुकसान पर BJP अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने व्यापारी संगठनों के साथ की वर्चुअल बैठक….

नई दिल्ली : दिल्ली भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने रविवार को पार्टी के प्रदेश कार्यालय में व्यापारी संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ रविवार को...

नई दिल्ली : कोरोना के खौफ के साए में देश की राजधानी दिल्ली, 24 घंटे में हुई 131 लोगो की मौतें

नई दिल्ली : राजधानी में कोरोना वायरस (Coronavirus) का संक्रमण लगातार लोगों को अपनी गिरफ्त में ले रहा है। दिल्ली सरकार (Delhi Government) के...

जम्मू-कश्मीर को विशेष अधिकार देने वाले आर्टिकल 370 के कमजोर होने के बाद पाकिस्तान की तरफ से युद्ध और जवाबी कार्यवाई की लगातार धमकियां मिलती रही हैं। पाकिस्तानी सेना द्वारा कई बार सीज़फायर का उल्लंघन भी किया गया । ऐसे में कल घाटी में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच पहली बार मुठभेड़ हुई । बारामूला में हुई इस मुठभेड़ में एक आतंकी को मार गिराया गया । इस एनकाउंटर में एक स्पेशल पुलिस ऑफिसर (SPO) शहीद हो गया, जबकि दूसरा घायल हो गया । बता दें कि मंगलवार की शाम ये एनकाउंटर आपरेशन शुरू किया गया था । मौके से भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद बरामद हुए हैं । मारे गए आतंकी की पहचान की जा रही है ।

बारामूला शहर जम्मू और कश्मीर की राजधानी श्रीनगर से करीब 54 किलोमीटर की दूरी पर है । सूत्रों के मुताबिक इस एनकाउंटर में दो से तीन आतंकियों को सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप ने घेर रखा था। खुद को घिरा हुआ देख आतंकियों ने गोलीबारी शुरू कर दी, जिसमें SPO बिलाल शहीद हो गए, जबकि एसआई अमरदीप परिहार घायल हो गए । फिलहाल उनका इलाज आर्मी हॉस्पिटल में चल रहा है ।

घर घर पहुंचेगी जम्मू सरकार

जानकारी के अनुसार, आने वाले कुछ दिनों में जम्मू-कश्मीर के IAS और कश्मीर एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विसेज (KAS) के अधिकारी आवाम में सतर्कता के लिए एक बड़ा कदम उठाने वाले हैं । अनुच्छेद 370 हटाने से होने वाले फायदे की जानकारी कम से कम 20-20 स्थानीय परिवारों तक पहुंचाई जाएगी । इसके साथ ही 370 के कमजोर होने से कश्मीरियों को मिलने वाले अधिकार और प्रगति की संभावनाओं के बारे में भी सभी को बताया जाएगा। इस सारी जानकारी को टीवी, रेडियो और दूसरे प्रचार माध्यमों की मदद से लोगों तक पहुंचाने के लिए सरकार तैयार है ।

आपको बता दें, इस कदम के ज़रिए सरकार का मकसद लोगों में जागरूकता फैलाना है। 370 कमज़ोर होने की खबर के बाद से ही कुछ दल घाटी में अशांति फैलाने की कोशिश में हैं। ऐसे में ज़रा सी अफवाह लोगों में हिंसा का कारण बन सकती है। इससे बचने के लिए सरकार ने आवाम में जागरूकता फैलाने का फैसला लिया है।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

तेजबहादुर यादव को सुप्रीम कोर्ट ने दिया बड़ा झटका, पीएम मोदी के खिलाफ लगाई थी याचिका

नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट ने वाराणसी से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का निर्वाचन रद्द करने की मांग वाली याचिका खारिज कर दी है। बीएसएफ...

Bollywood : कंगना रनौत के ऑफिस तोड़फोड़ मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट सुनाएगा अपना फैसला इस तारीख को..

अभिनेत्री कंगना रनौत हमेशा किसी न किसी वजह से सुर्खियों में रहती हैं। पिछले दिनों कंगना रनौत और महाराष्ट्र सरकार के बीच विवाद हुआ...

अमेरिका चुनावः बाइडन को सत्ता सौंपने के लिए आख़िरकार क्यों तैयार हुए डोनाल्ड ट्रंप

आखिरकार डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के नव-निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन को सत्ता सौंपने के लिए तैयार हो गए हैं। हालांकि, ट्रंप ने अपनी लड़ाई जारी...

Breaking news : कोरोना पर PM के साथ बैठक के दौरान ममता ने GST पर कर डाले तीखे सवाल…

  कोरोना संकट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में हुई बैठक में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने GST बकाये का मुद्दा उठाया...

तेजस्वी और नीतीश कुमार के बीच अब हो रही भिड़ंत विधानसभा स्पीकर को लेकर , जाने कौन बनेगा स्पीकर

  बिहार विधानसभा से इस वक्त की बड़ी खबर निकल कर सामने आ रही है. महागठबंधन ने स्पीकर के लिए अपना उम्मीदवार उतारने का फैसला...