टिकट घोषित होते ही धरने पर बैठे शिवसेना के विधायक जानिए वजह

0
53

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019 के लिए पहले जहां शिवसेना और बीजेपी में सीट शेयरिंग को लेकर टकराव था, वहीं अब टिकट नहीं मिलने पर पार्टी के दो मौजूदा विधायक (MLA) बगावत पर उतर आए हैं । टिकट काटे जाने से नाराज शिवसेना के ये विधायक मातोश्री के सामने धरने पर बैठ गए हैं । धरने पर बैठकर ये टिकट देने की मांग कर रहे हैं । बता दें कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे मातोश्री में ही रहते हैं ।

शिवसेना के विधायक अशोक पाटिल को टिकट नही दिया गया है । नाराज़ विधायक अशोक पाटिल के समर्थकों ने कहा, ‘हमें विश्वास नहीं हो रहा है कि उन्हें टिकट नहीं दिया गया है । वो पार्टी के लिए हमेशा मौजूद रहे हैं । हम न्याय की मांग कर रहे हैं और उम्मीद है कि उद्धव जी और आदित्य जी हमारे साथ न्याय करेंगे ।’ बता दें कि कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) छोड़कर बीजेपी और शिवसेना में शामिल हुए नेताओं के कारण कई मौजूदा विधायकों के टिकट कटने की संभावना है । माना जा रहा है कि इस कारण कई विधायक नाराज चल रहे हैं । उनका कहना है कि हम वर्षों से पार्टी की सेवा कर रहे हैं, लेकिन कुछ दिन पहले अन्य दलों से आए नेताओं को टिकट देना हमारे साथ अन्याय है ।

क्या एकनाथ खडसे भी हैं नाराज़?

गौरतलब है कि बीजेपी में भी इसी तरह का अंतरकलह चल रहा है । पार्टी के वरिष्ठ नेता एकनाथ खडसे को भी अबतक टिकट नहीं मिला है । जानकारी के अनुसार एकनाथ खडसे के समर्थक इस बात पर काफी नाराज हैं । हालांकि गुरुवार को खडसे ने मीडिया में आकर अपना पक्ष रखा । खडसे ने कहा कि पिछले 40-42 साल में कोई मौका नहीं आया, जब मैंने पार्टी के फैसले को न माना हो । उन्होंने कहा कि मैं पार्टी का अनुशासित कार्यकर्ता हूं । मैं पार्टी नेतृत्व के हर फैसले को मानने के लिए तैयार हूं । साथ ही उन्होंने अपने एनसीपी में शामिल होने की संभावनाओं को बेबुनियाद ठहराया । शरद पवार से उनकी मुलाकात को लेकर उन्होंने कहा कि ‘पिछले एक साल से मैं न शरद पवार से मिला हूं और ही उनसे बात हुई है । पता नहीं यह कौन अफवाह उड़ा रहा है कि मैं एनसीपी जॉइन करने वाला हूं ।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here