शिवपुरी के इस शिवा को देखते ही कौव्वे कर देते हैं हमला, ये रही वजह

0
129

राजकुमार यादव की रिपोर्ट

 

शिवपुरी (Shivpuri) । आपने इंसानों के बीच दुश्मनी तो खूब देखी होगी लेकिन क्या कभी आपने सुना है कि कौओं (Crows) की दुश्मनी भी खतरनाक हो सकती है। जी हां ऐसा ही एक वाक्य हुआ हैं मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के शिवपुरी जिले की बदरवास जनपद के स्थित एक होटल में जहां काम करने वाला युवक पिछले तीन साल से कौओं (Crows) की दुश्मनी झेल रहा है । ग्राम सुमैला में रहने वाला यह युवक जब काम पर आता है एवं जब वापिस घर जाता है तो बगैर लाठी के निकल ही नहीं सकता है, क्योंकि वो जब भी सड़क से निकलता है तो कौए (Crow) उस पर अटेक कर देते हैं। शानिवार को जब यह युवक बिना लाठी के सड़क पर निकला तो इसी बीच कौए ने सिर में दो जगह चोंच मारकर उसे चोटिल कर दिया ।

ग्राम सुमैला निवासी सिवा केवट बादरवास नगर में स्थित एक होटल में काम करता है। शिवा ने बताया कि लगभग तीन साल पूर्व जब में अपने गांव से बदरवास की तरफ आ रहा था तो रास्ते मे कौए का एक बच्चा एक जाली में फंसा हुआ नजर आया उसे जाली में फंसा देखकर शिवा ने उसे निकालने का प्रयास किया लेकिन कौए का बच्चा मर गया । शिवा बताता है उसके बाद से तो उसका सड़क पर निकलना मुश्किल हो गया। शुरुवात में जब कौओं ने हमला किया तो उसको समझ नहीं आया लेकिन बाद में उसे याद आया कि मेरे हाथ से कौए का बच्चा मरने की वजह से वे मेरे दुश्मन हो गए हैं।

क्या कहते हैं अधिकारी ..

कौए का दिमाग अन्य पक्षियों की तुलना में बड़ा होता है इसलिए इसकी याददास्त भी अच्छी होती है वह आसानी से किसी मानव के चेहरे ओर उसके व्यवहार की पहचान कर लेते हैं। वह उसे सालों साल तक नहीं भूलते हैं। यह अपने दोस्तों और दुश्मनो को भी अच्छी तरह से पहचानते हैं इसलिए यदि कोई कौए या उसके अंडों को नुकसान पहुचाए तो यह उस पर हमला भी कर देते हैं l

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here