एनआरसी पर शेख हसीना का बड़ा बयान, कहा कोई दिक्कत नही

0
55

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना चार दिन के भारत दौरे के लिए गुरुवार को नई दिल्ली पहुंचीं । भारत आने के बाद शेख हसीना ने असम के राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) को लेकर बयान दिया । उन्होंने कहा कि असम में NRC लागू होने से बांग्लादेश को कोई दिक्कत नहीं है । उन्होंने बताया कि इस बारे में वे न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) अधिवेशन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से पहले ही बात कर चुकी है ।

शेख हसीना से कहा कि वे पीएम मोदी के आश्वासन से बिल्कुल संतुष्ट हैं । उन्होंने कहा, ‘मुझे एनआरसी से कोई समस्या नहीं होती दिख रही है । बांग्लादेश को भी इससे चिंतित नहीं होना चाहिए । क्योंकि प्रधानमंत्री मोदी से मेरी बात हो चुकी है । सब ठीक है ।’ दरअसल, बीते हफ्ते पीएम मोदी UNGA के अधिवेशन में हिस्सा लेने न्यूयॉर्क गए थे । इस दौरान उनकी मुलाकात बांग्लादेशी पीएम शेख हसीना से हुई थी । उस समय हसीना ने एनआरसी का मुद्दा उठाया था और चिंता जाहिर की थी । इसपर प्रधानमंत्री मोदी ने उन्हें भरोसा दिलाया था कि भारत-बांग्लादेश के बीच अच्छे संबंध हैं । ऐसे में बांग्लादेश को एनआरसी से चिंतित होने की जरूरत नहीं है ।

इमरान खान ने भारत पहुंचने से पहले शेख हसीना को फोन किया

गौरतलब है कि बांग्‍लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना वर्ल्‍ड इकोनॉमिक फोरम की इंडिया इकोनॉमिक समिट में हिस्‍सा लेने भारत आई हैं । वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ शनिवार को द्विपक्षीय वार्ता भी करेंगी । वहीं पाकिस्तान NRC सूची के नाम पर फायदा उठाने की फिराक में है । इसलिए इमरान खान ने भारत पहुंचने से कुछ घंटों पहले शेख हसीना को अपने भारत विरोधी अभियान के तहत फोन किया। बता दें कि पाकिस्तानी पीएम केंद्र सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 के ज्यादातर प्रावधानों को निष्प्रभावी बनाने के फैसले के बाद से लगातार मुस्लिम देशों के नेताओं को फोन करके इस मुद्दे पर एकजुट होने के लिए कह रहे हैं । हालांकि हसीना के मीडिया सचिव इहसानुल करीम ने कहा कि बुधवार को बातचीत के दौरान खान ने बांग्लादेश की प्रधानमंत्री का हाल-चाल पूछा था । उन्होंने हसीना से उनकी आंखों के स्वास्थ के बारे में भी पूछा । बता दें कि हाल ही में हसीना ने लंदन के एक अस्पताल से आंखों का इलाज कराया था ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here