महाराष्ट्र में फंस गया पेच, शिवसेना ने बीजेपी से मांगी बराबर की हिस्सेदारी

0
97

महाराष्ट्र(Maharashtra) में विधानसभा चुनावों के चलते राजनीति गरमाई हुई है। काफी समय से टकरावों को झेल रहा बीजेपी-शिवसेना(BJP-Shivsena) गठबंधन एक बार फिर खतरे में है। शिवसेना ने चुनावों में बराबरी की स्थिति में ही बीजेपी के साथ मिलकर चुनाव लड़ने का फैसला किया है। गठबंधन के लिए शिवसेना ने बीजेपी के बराबर सीटों की मांग की है।

शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत(Sanjay Raut) ने कहा है कि शिवसेना बीजेपी के बराबर सीट मिलने पर ही गठबंधन करेगी। उन्होंने साफ़ शब्दों में कहा है कि 144 सीटें नहीं मिलेंगी, तो बीजेपी के साथ विधानसभा चुनावों में गठजोड़ भी नहीं किया जाएगा। जानकारी के अनुसार बीजेपी और शिवसेना के बीच राज्य में सीट बंटवारे को लेकर स्थिति साफ होती नहीं दिख रही है। जहाँ एक तरफ बीजेपी इस गठबंधन में बड़े भाई की भूमिका निभाना चाहती है। वहीं, शिवसेना बराबरी का दर्जा चाहती है। ऐसे में दोनों दलों के बीच सीट बंटवारे को लेकर रस्‍साकशी चल रही है।

बयान इसलिए भी है अहम

संजय राउत(Sanjay Raut) ने बयान दिया है कि ‘जब अमित शाह और मुख्‍यमंत्री (देवेंद्र फड़णवीस) के बीच बातचीत के दौरान 50-50 का फॉर्मूला अपनाने का फैसला कर लिया गया तो यह बयान (दिवाकर राउत का बयान) गलत नहीं है। चुनाव साथ (बीजेपी के) लड़ेंगे, क्‍यों नहीं लड़ेंगे।’

बता दें कि शिवसेना और बीजेपी में काफी समय से टकराव की स्थिति बनी हुई है। लोकसभा चुनाव में शिवसेना ने सभी गिले शिकवे भुला कर गठबंधन किया था। मगर महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में ये गठबंधन खतरे में नज़र आ रहा है। ऐसे माहौल में संजय राउत(Sanjay Raut) के बयान की अहमियत बढ़ जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here