6 महीने के लिए फंस गए इस बैंक के ग्राहक, अधिकतम एक हज़ार रुपये निकालने की इजाज़त

0
65

अगर आप पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव (PMC) बैंक के ग्राहक हैं तो अगले 6 महीने तक आपको परेशानी का सामना करना पड़ सकता है | दरअसल, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव (PMC) बैंक पर कई तरह की पाबंदियां लगा दी है | आरबीआई ने यह कार्रवाई बैंकिग रेलुगेशन एक्ट, 1949 के सेक्‍शन 35ए के तहत की है | बैंक के ग्राहक अगले 6 महीने तक 1000 रुपये से अधिक पैसा नहीं निकाल सकेंगे

आरबीआई के इस फैसले के बाद पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक के ग्राहकों की मुश्किलें बढ़ गई हैं | अब बैंक में कोई नया फिक्‍सड डिपॉजिट अकाउंट नहीं खुल सकेगा | इसके अलावा बैंक के नए लोन जारी करने पर भी पाबंदी लगा दी गई है | यही नहीं, बैंक के ग्राहक अगले 6 महीने तक 1000 रुपये से अधिक पैसा नहीं निकाल सकेंगे | बहरहाल, आरबीआई के निर्देश के बाद बैंक के अलग-अलग ब्रांच से ग्राहकों के हंगामे की खबरें भी आने लगी हैं | वहीं सोशल मीडिया पर बैंक के अलग-अलग ब्रांच से हंगामे के वीडियो भी शेयर किए जा रहे हैं |

करंट या अन्य किसी खाते में से 1,000 रुपये से ज्यादा रुपये नहीं निकाल सकते हैं

केंद्रीय बैंक के मुख्य महाप्रबंधक योगेश दयाल ने कहा कि आरबीआई निर्देशों के अनुसार, जमाकर्ता बैंक में अपने सेविंग, करंट या अन्य किसी खाते में से 1,000 रुपये से ज्यादा रुपये नहीं निकाल सकते हैं | पीएमसी बैंक पर आरबीआई की अग्रिम मंजूरी के बिना लोन और अग्रिम धनराशि देने या रीन्यू करने, किसी भी प्रकार का निवेश करने, फ्रेश डिपॉजिट स्वीकार करने आदि से रोक लगा दी है | हालांकि आरबीआई इन दिशा-निर्देशों में स्थिति के हिसाब से संशोधन कर सकता है |

एमडी जॉय थॉमस का बयान

इस पूरे मामले पर पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक के एमडी जॉय थॉमस का बयान भी आ गया है | थॉमस ने कहा, ” हमें आरबीआई के नियमों के उल्‍लंघन का खेद है | इस वजह से 6 महीने तक हमारे ग्राहकों को मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है | बतौर एमडी मैं इसकी जिम्‍मेदारी लेता हूं | इसके साथ ही सभी जमाकर्ताओं को यह सुनिश्चित करता हूं कि 6 महीने से पहले हम अपनी कमियों को सुधार लेंगे |”

जॉय थॉमस ने आगे कहा कि अनियमितताओं को सुधार कर प्रतिबंधों को हटाने के लिए सभी प्रयास किए जाएंगे. मुझे पता है कि यह आप सभी के लिए एक मुश्किल समय है | मुझे यह भी पता है कि कोई भी माफी इस दर्द को खत्‍म नहीं कर सकता है | आप सभी से अपील है कि कृपया हमारे साथ रहें और सहयोग करें | हम विश्वास दिलाते हैं कि जल्‍द इस स्थिति से उबरेंगे और मजबूत होंगे |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here