इसलिए रवि शास्त्री फिर बन गए भारतीय क्रिकेट टीम के कोच

0
95

क्रिकेट सलाहकार समिति ने एक बार फिर रवि शास्त्री को भारतीय टीम का कोच चुन लिया हैं | वर्ल्ड कप 2019 में भारतीय टीम ने सेमि फाइनल तक रवि शास्त्री की कोचिंग में शानदार प्रदर्शन किया था लेकिन सेमि फाइनल में भारतीय टीम को न्यूज़ीलैंड के हाथो बड़ी हार मिली थी जिसके कारण भारतीय टीम वर्ल्ड कप से बहार हो गई थी | उसके बाद से ही सभी यह अनुमान लगाने लग गए थे की अब रवि शास्त्री को दुबारा से भारतीय टीम का कोच नहीं चुना जाएगा | रवि शास्त्री के पांच साल के कार्यकाल में भारतीय टीम ने आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी भी गवाई थी हालाँकि भारतीय टीम ने एशिया कप अपने नाम ज़रूर किया था |

अब 57 साल के रवि शास्त्री एक बार फिर भारतीय टीम के मुख्य कोच पद पर काबिज हो गए | भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने मुंबई में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उनके नाम की घोषणा की | वह 2021 तक टीम इंडिया के हेड कोच बने रहेंगे |

टीम इंडिया के मुख्य कोच के लिए 6 नामों को शॉर्टलिस्ट किया गया था, जिसमें मौजूदा कोच रवि शास्त्री भी शामिल थे | शास्त्री के अलावा दो और भारतीय कोच (पूर्व क्रिकेटर लालचंद राजपूत और रॉबिन सिंह) भी शॉर्ट लिस्ट किए गए थे | आखिरकार कपिल देव के नेतृत्व वाली सीएसी की पहली पसंद रवि शास्त्री बने | इस समिति में अंशुमन गायकवाड़ और शांता रंगास्वामी भी शामिल हैं | बता दे कि टीम के कप्तान विराट कोहली भी चाहते थे कि टीम के कोच एक बार फिर रवि शास्त्री ही बने |

वह 6 नाम जो कि मुख्य कोच के लिए शॉर्टलिस्ट हुए थे उनमे सबसे पहले रवि शास्त्री जिनकी उम्र 57 वर्ष है और वह 80 टेस्ट, 150 वनडे इंटरनेशनल खेल चुके हैं साथ ही वह टीम इंडिया के कोच भी रह चुके हैं | दूसरे नम्बर पर टॉम मुडी थे जिनकी उम्र 53 वर्ष है और वह 8 टेस्ट, 76 वनडे इंटरनेशनल मैच खेल चुके हैं | तीसरे स्थान पर माइक हेसन जिनकी उम्र 44 वर्ष है और वह न्यूज़ीलैंड के कोच रह चुके है | चौथे स्थान पर फिल सिमंस है जिनकी उम्र 56 वर्ष है और वह 26 टेस्ट, 143 वनडे इंटरनेशनल खेल चुके हैं | पांचवे स्थान पर भारत के लाल चंद राजपूत जिनकी उम्र 57वर्ष है और वह दो टेस्ट, 4 वनडे इंटरनेशनल मुकाबले खेल चुके है | आखिर में भारत के ही रॉबिन सिंह जिनकी उम्र 55 वर्ष है और वह 1 टेस्ट, 136 वनडे इंटरनेशनल खेल चुके हैं |

इन सब कोचों के बाद भी मीटिंग में एक बार फिर रवि शास्त्री को हेड कोच बनाया गया हैं | अब देखना होगा कि इस बार रवि शास्त्री किस तरह कि कोचिंग कर के दिखाएंगे |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here