रानू मंडल को ये सलाह देकर फंस गईं लता मंगेशकर, लोग कर रहे हैं हमला

0
149

कभी रेलवे स्टेशन पर गाने वाली रानू मंडल हिमेश रेशमिया(Himesh Reshamiya) की बदौलत बॉलीवुड का एक चेहरा बन गई हैं। उन्हें लाखों लोग एक प्लेबैक गायिका के तौर पर जानने लगे हैं। ऐसे में उनपर होने वाले कमैंट्स पर लोगों की प्रतिक्रिया आना भी स्वभाविक हैं। कुछ ऐसा ही हुआ लता मंगेशकर(Lata Mangeshkar) के साथ जब रानू मंडल(Ranu Mandol) पर उनके एक बयान को लेकर लोगों ने उनपर धावा बोल दिया।

लता मंगेशकर ने रानू मंडल को मिल रही लोकप्रियता को लेकर एक इंटरव्यू में बयान दिया था जिसके बाद लोगों ने उनपर जमकर गुस्सा दिखाया। उन्होंने अपने इस बयान में रानू मंडल को अपनी वास्तिक आवाज़ और तरीके से गाने की सलाह दी थी। उन्होंने कहा था कि ‘अगर मेरे नाम और काम से किसी का भला होता है तो मैं अपने आप को खुशकिस्मत समझती हूं। लेकिन मैं ये भी महसूस करती हूं कि नकल करने से आपको लंबे समय तक सफलता नहीं मिल सकती है।’ उन्होंने रानू को सलाह देते हुए कहा, ‘ऑरिजिनल रहो, सभी सिंगर्स के एवरग्रीन गाने गाओ लेकिन कुछ समय बाद गायक को अपना गाना ढूंढना चाहिए।’ इसके साथ ही उन्होंने श्रेया घोषाल और सुनिधि चौहान का उदहारण देते हुआ कहा था कि ‘इतने सारे लोग मेरे गीतों को इतनी खूबसूरती से गाते हैं। लेकिन एक बार की सफलता के बाद उनमें से कितने को याद रखा जाता है? मैं केवल सुनिधि चौहान(Sunidhi Chauhan) और श्रेया घोषाल(Shreya Ghoshal) के बारे में जानती हूं। अपनी वास्तविक आवाज़ में गाओ। मेरे और मेरे सहयोगियों द्वारा गाए सदाबहार गीतों को गाइए । लेकिन एक पड़ाव के बाद, गायक को अपना खुद का गाना ढूंढना चाहिए। अगर आशा जी (भोंसले)(Asha Bhosle) ने अपने अंदाज में गाने पर जोर नहीं दिया होता तो वह हमेशा मेरी परछाई में बनी रहती। वह इस बात का सबसे बड़ा उदाहरण है कि किसी व्यक्ति की प्रतिभा उसे कितनी दूर तक ले जा सकती है।’

लता मंगेशकर पर निकाला गुस्सा

लोगों को लता मंगेशकर की ये सलाह अच्छी नहीं लगी। इसके बाद लोगों ने ट्विटर(Twitter) पर उनके खिलाफ गुस्सा निकलना शुरू कर दिया। एक-दो ट्विटर यूजर ने लिखा- ‘जब लता मंगेशकर बॉलीवुड पर राज कर रही थीं, तब उन्होंने कई नई फीमेल सिंगर्स का करियर बर्बाद किया था। तो अब वो कैसे किसी को प्रोत्साहन दे सकती हैं।’ वहीं एक दूसरे यूजर ने ससम्मान लिखा- ‘मैं रानू मंडल को लेकर आपकी क्रिटिसिज्म और निंदा वाली राय पर ससम्मान आपके साथ सहमत नही हूं। आपको अपने बयानों को लेकर थोड़ा और विनीत होना चाहिए और रानू मंडल को सपोर्ट करना चाहिए। रानू के पास कुछ भी खोने को नहीं हैं। ऐसे में आपके कमेंट की परवाह कोई नहीं करता। कठोर बोलने के लिए माफ कीजिए।’ वहीँ कुछ ने उनपर संगीतकार और म्यूजिक डायरेक्टर्स को धमकी तक देने के आरोप लगाए। एक यूजर ने तो यहां तक कह दिया कि उसे लता मंगेशकर से नफरत हो गई है। हालांकि लता मंगेशकर के इस बयान पर रानू मंडल ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here