गहलोत को धृतराष्ट्र कहने वाले डूडी बने कांग्रेस के स्टार प्रचारक

0
57

राजस्थान की दो सीटों पर होने वाले उपचुनावों के लिए कांग्रेस ने रामेश्वर डूडी को स्टार चुना बनाया है। दिलचस्प है कि रामेश्वर डूडी ने ही बीते दिनों राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को धृतराष्ट्र की उपाधि दी थी। रामेश्वर डूडी ने गहलोत पर अपने बेटे के लिए सरकारी तंत्र का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया था। ऐसे में सवाल उठता है कि रामेश्वर डूडी अगर चुनाव प्रचार करने गए तो गहलोत सरकार के कामकाज को लेकर जनता को क्या बताएंगे।

कांग्रेस नेता रामेश्वर डूडी एक दिन पहले ही सीएम अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत के खिलाफ राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष पद पर चुनाव लड़ने के लिए नामांकन भरने गए थे। डूडी का नामांकन खारिज हो गया तो वैभव के खिलाफ जोधपुर के ही एक छात्र नेता रहे क्रिकेट एसोसिएशन के पदाधिकारी को उम्मीदवार बना दिया गया था। इसको लेकर रामेश्वर डूडी ने सीएम अशोक गहलोत पर आरोपों की झड़ी लगा दी। डूडी ने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष और राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के मौजूदा अध्यक्ष सीपी जोशी के साथ मिलकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सरकार का दुरुपयोग कर राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन पर अपने बेटे को काबिज करवाना चाहते हैं।

धृतराष्ट्र या रामराज्य, क्या कहें रामेश्वर?

रामेश्वर डूडी ने बयान दिया था कि मैं सरकार के तानाशाही रवैए का विरोध करूंगा। इस घटना के एक दिन बाद ही शुक्रवार को राजस्थान की दो सीटों मंडावा और खींवसर पर होने वाले उपचुनाव के लिए कांग्रेस के स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी की गई है। इस लिस्ट में रामेश्वर डूडी का नाम भी शामिल है। इसको लेकर माना जा रहा है कि रामेश्वर डूडी को कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष और उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट का समर्थन है। हालांकि ‘मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खिलाफ सबके सामने बोलने वाले डूडी सरकार के बारे में क्या बोलेंगे’ का सवाल बना हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here