पत्नी बोलीं कैप्टन अमरिंदर ने टिकट कटवाया, सिद्दू बोले, सच बोलती हैं वे”

0
140

पंजाब में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के बीच लगातार तकरार जारी है। इस बीच पंजाब सरकार में मंत्री और कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने अपनी पत्नी नवजोत कौर सिद्धू के कुछ दिन पहले दिए गए बयान का समर्थन करते हुए कहा कि वह कभी झूठ नहीं बोलेंगी। नवजोत कौर सिद्धू ने पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और कांग्रेस की वरिष्ठ नेता आशा कुमारी पर अमृतसर से लोकसभा टिकट नहीं दिए जाने का आरोप लगाया था। जब सिद्धू से उनकी पत्नी के आरोपों के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, ‘मेरी पत्नी नैतिक रूप से इतनी मजबूत हैं कि वह कभी झूठ नहीं बोलेंगी। यही मेरा जवाब है।’

सिद्धू की पत्नी ने अमृतसर लोकसभा सीट के लिए टिकट का दावा किया था। इस पर मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने बयान दिया कि डॉ नवजोत ने चंडीगढ़ से टिकट माँगा था और पार्टी हाईकमान ने वहाँ से पूर्व रेल मंत्री पवन कुमार बंसल को चुना। बंसल चंडीगढ़ से चार बार सांसद रह चुके हैं। अमृतसर में कांग्रेस ने मौजूदा सांसद गुरजीत सिंह को शिरोमणि अकाली दल-भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार हरदीप सिंह पुरी के सामने उतारा है। पंजाब की 13 लोकसभा सीटों पर 19 मई को वोट डाले जाएंगे।

इसी बीच नवजोत कौर ने आरोप लगाया कि उन्हें अमरिंदर सिंह की वजह से अमृतसर से लोकसभा टिकट नहीं मिला। उन्होंने कहा कि अमरिंदर सिंह और पार्टी की पंजाब प्रभारी महासचिव आशा सिंह ने पुख्ता इंतजाम किया था कि उन्हें अमृतसर सीट से टिकट न मिले। नवजोत ने अमृतसर में संवाददाताओं से बातचीत में कहा था, ‘कैप्टन साहब और आशा कुमारी सोचती हैं कि मैडम सिद्धू संसदीय सीट का टिकट पाने की हकदार नहीं हैं। मुझे अमृतसर से टिकट इसलिए नहीं दिया गया कि मैं बीते साल अमृतसर में हुए दशहरा रेल हादसे से पैदा हुई नाराजगी की वजह से जीत नहीं पाऊंगी।’

बता दें कि क्रिकेटर से नेता बने नवजोत सिंह सिद्धू और मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के बीच चल रही खींचतान पहले भी कई बार सामने आ चुकी है। यहां तक कि कैप्टन अमरिंदर सिंह से कथित तकरार के कारण सिद्धू पंजाब में चुनाव प्रचार से भी दूर ही रहें ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here