मतलबी “माया”, इमोशनल अखिलेश

0
50

 

 

 

 

लोकसभा चुनाव 2019 के चुनावों के दौरान उत्तर प्रदेश की राजनीती में एक बड़ा बदलाव आया था |लोकसभा चुनावो में बीजेपी को हारने के लिए सपा और बसपा के बीच गठबंधन हो गया था, लेकिन गठबंधन होने के बाद भी बीजेपी को इस गठबंधन का कोई नुक्सान नहीं हुआ | न ही बसपा को कोई नुकसान हुआ बल्कि बसपा को इस गठबंधन का फायदा ही हुआ | वहीँ समाजवादी पार्टी को इस गठबंधन से कुछ फायदा नहीं मिला है | 2014 में बसपा को एक भी लोकसभा सीट नहीं मिली थी लेकिन इस बार उहे 10 सीटों पर जीत मिली | लेकिन जिस वजह से यह गठबंधन हुआ था वो फायदा नहीं होने पर अब मायावती ने गठबंधन को खत्म करने के संकेत दे दिए है | वहीँ अखिलेश यादव ने गठबंधन पर कुछ नहीं बोला है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here