मौलाना आज़ाद इंस्टिट्यूट ऑफ डेंटल साइंस के डायरेक्टर पर उपराज्यपाल की ये मेहरबानी क्यों? उठे सवाल

मौलाना आजाद इंस्टिट्यूट ऑफ डेंटल साइंसेज, नई दिल्ली के डायरेक्टर डॉ महेश वर्मा गत 1995 से अपने पद पर कार्यरत हैं । उनकी आयु अगस्त 2019 में 62 वर्ष की हो जाएगी । भारत सरकार के गजट नोटिफिकेशन के अनुसार कोई चिकित्सक 62 वर्ष के उपरांत एडमिनिस्ट्रेटिव पोस्ट पर नहीं रह सकता है। वह 65 वर्ष की आयु तक सेवारत रह सकता है।

परंतु उसे अपनी सभी एडमिनिस्ट्रेटिव पदों को त्यागना होगा। दिल्ली सरकार के उपराज्यपाल ने नियम के विरुद्ध जाकर डॉक्टर महेश वर्मा को 65 वर्ष तक डायरेक्टर पद पर बने रहने के आदेश को पारित कर दिया है, जो भारत सरकार के नियमों के विरुद्ध है । इस संदर्भ में इसे हाई कोर्ट में इसे चैलेंज किया गया है | मामला दिल्ली हाई कोर्ट तक पहुंचा चूका हैं | इस केस की सुनवाई डबल बेंच में चल रही है और इस केस की अगली सुनवाई अब 20 अगस्त को होनी है | बता दें की इस पूरे मामले की शिकायत प्रधानमंत्री मोदी से भी की गई हैं | इस केस की सुनवाई अब 20 अगस्त को होनी है |

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button