Tuesday, March 2, 2021

जानिए एक मां क्यों बेचा अपना 1 दिन का बच्चा, वजह जानकर हो जायेगे हैरान

Must read

घरेलू कलह के चलते विवाहिता ने किया आत्महत्या का प्रयास

उत्तर प्रदेश के बांदा में आज घरेलू कलह के चलते एक विवाहिता ने केन नदी पुल से छलांग लगा दी जैसे ही मामले की...

गुमला में एक ही परिवार के पांच लोगों की हत्या जानें पूरा मामला

गुमला,  झारखंड में गुमला जिले के कामडरा थाना क्षेत्र में एक ही परिवार के पांच सदस्यों की हत्या कर दी गयी है। पुलिस सूत्रों ने...

पांडियन के निधन पर जताया शोक

तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने शुक्रवार को भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के वरिष्ठ नेता डी. पांडियन के निधन पर शोक व्यक्त किया।पुरोहित ने...

तनावमुक्त जीवन के लिए योग जरूरी : डॉ. गुप्ता

दरभंगा,  जाने-माने हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. ए. के. गुप्ता ने तनावमुक्त जीवन के लिए लोगों को योग अपनाने की सलाह देते हुए मंगलवार को...

हल्द्वानी
गरीबी और मजबूरी इंसान से क्या नहीं करवा देती। उत्तराखंड के हल्द्वानी के बनभूलपुरा की मलिन बस्ती में रहने वाले एक मजदूर के परिवार को अजब संकट से गुजरना पड़ रहा है। इस मजदूर की पत्नी ने चौबीस घंटे पहले ही एक नवजात को जन्म दिया था। इस दौरान पत्नी की जांच कर चिकित्सकों ने आशंका जताई कि महिला को कैंसर हो सकता है। कैंसर का नाम सुनते ही मजदूर के होश उड़ गए।

जेब में पैसा था नहीं, इसलिए पत्नी से बातचीत कर तय किया कि नवजात को ही बेचकर पैसों का बंदोबस्त कर लिया जाए। कैंसर का नाम सुन तनाव में आई पत्नी ने भी हामी भर दी। पत्नी की सहमति के बाद मजदूर ने गौजाजाली के रहने वाले अपने परिचित को 65 हजार रुपये में नवजात को बेच दिया।

ये भी पढ़े – जानिए गहलोत सरकार ने बेरोजगार युवाओं दिया बड़ा तोहफा, विद्युत विभाग में निकली इतनी भर्तियाँ


अस्पताल से लौटकर मजदूर की पत्नी घर आ गई। हालांकि रविवार को मां की ममता जाग उठी। उसने मांग शुरू कर दी कि उसे इलाज नहीं, अपना बच्चा चाहिए। हर हाल में बच्चा वापसी करवाने की जिद पर अड़ी पत्नी ने धमकी दे डाली कि बच्चा न मिला तो कुछ भी कर जाऊंगी।


दूसरी तरफ बच्चा खरीदने वाला परिवार भी असमंजस में है। पति ने इस मामले में पुलिस में शिकायत दर्ज नहीं कराई। कोतवाली थाने के एक उपनिरीक्षक को कॉल कर उसने राय जरूर ली है। पुलिस ने राय दी है कि वह थाने को लिखित शिकायत दे। मजदूर इसके बाद से अजब संकट में है। वह अपने उस परिचित, जिसको उसने बच्चा बेचा, उसकी पुलिस में शिकायत करने से भी बचना चाह रहा है और पत्नी की ममता का भी उसे भान है। वह पत्नी का इलाज भी करवाना चाहता है। ऐसे में मजदूर के सामने इधर कुआं, उधर खाई की स्थिति बनी हुई है।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

अजय कुमार लल्लू ने योगी सरकार के बेरोजगारी के झूठे आंकड़ो के लगाए आरोप

उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने योगी सरकार के बेरोजगारी के झूठे आंकड़े का आरोप लगाते हुये कहा कि प्रदेश में बेरोजगारी...

60 नर्सिंग कॉलेजों को दिए गए सहमति पत्र

कोरोना महामारी के खिलाफ जंग में उत्‍तर प्रदेश को दूसरे राज्‍यों से आगे रखने वाले मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाओं को और भी...

प्रदेश कार्यालय में हुई भाजपा की संगठनात्मक बैठक

राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) प्रदेश कार्यालय में आज पार्टी की संगठनात्मक बैठक हुई, जिसे राष्ट्रीय महामंत्री एवं प्रदेश प्रभारी अरूण सिंह, प्रदेशाध्यक्ष...

पुलिस ने एक फैक्ट्री से लूट की वारदात के सात आरोपियों को गिरफ्तार किया

 राजस्थान में अलवर जिले के खुशखेड़ा थाना क्षेत्र में पुलिस ने एक फैक्ट्री से लूट की वारदात के सात आरोपियों को गिरफ्तार कर 20...

जानिए योगी ने नन्हे छात्रों से क्या कहा

कोरोना संक्रमण के कारण 11 महीनों से बंद चल रहे उत्तर प्रदेश के प्राथमिक विद्यालय सोमवार को बच्चों की किलकारियों से गूंजने लगे। सजे...