Saturday, February 27, 2021

जानिए गहलोत सरकार ने बेरोजगार युवाओं दिया बड़ा तोहफा, विद्युत विभाग में निकली इतनी भर्तियाँ

Must read

वायु सेना ने लद्दाख और जम्मू के बीच फंसे 280 यात्रियों को निकाला

श्रीनगर, केन्द्रशासित प्रदेश लद्दाख और जम्मू कश्मीर के बीच कम से कम 280 फंसे हुए यात्रियों को वायु सेना ने बुधवार को सुरक्षित निकाला।...

भाजपा की जीत पर दी इस मुख्यमंत्री ने शुभकामनाए

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुजरात नगरीय निकाय चुनाव में पार्टी को मिली जीत पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए आज कहा कि...

सडाना हत्याकांड मे अपर सत्र न्यायधीश ने सुनाया फैसला, दी ये सजा

बड़ी खबर... सहारनपुर में वर्ष 2009 में हुए हाई प्रोफाइल सजहल सडाना हत्याकांड मे अपर सत्र न्यायधीश ने सुनाया फैसला ये भी पढ़े-जानिए कौन है शबनम,...

मध्यप्रदेश में व्यापार बंद का आह्वान के बाद भी देखा गया ऐसा

वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के जटिल प्रावधानों के विरोध में कॉन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के आज भारत व्यापार बंद का आह्वान...

जयपुर. प्रदेश की गहलोत सरकार ने कोराना काल में बेरोजगार अभ्यर्थियों को बड़ी राहत प्रदान की है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने वादे के अनुरूप बेरोजगारों के लिए बड़ी घोषणा की है.

सरकार ने बजट पूर्व राज्य की पांचों बिजली कंपनियों (उत्पादन निगम, प्रसारण निगम, जयपुर, अजमेर, जोधपुर विद्युत वितरण निगम) में सरकार ने 2370 पदों पर सीधी भर्ती निकाली है. इसके लिए 24 फरवरी से ऑनलाइन आवेदन भरे जाएंगे. इन पदों में इंजीनियर के अलावा लेखाधिकारी, स्टेनोग्राफर, सूचना सहायक और लिपिक सहित अन्य पदों पर भर्ती की जाएगी.

इन बिजली कंपनियों में सहायक अभियंता के 39, लेखा अधिकारी के 11, कार्मिक अधिकारी के 06, सहायक कार्मिक अधिकारी के 11, कनिष्ठ विधि अधिकारी के 13, कनिष्ठ अभियंता के 946, कनिष्ठ लेखाकार के 313, कनिष्ठ रसायनज्ञ के 27, स्टेनोग्राफर के 38, सूचना सहायक के 46 और कनिष्ठ सहायक, वाणिज्यिक सहायक-द्वितीय के 920 पदों सहित कुल 2370 पदों पर भर्ती की जाएगी.

सरकार की ओर से पूर्व में की गई भर्ती संबंधी घोषणाओं की कड़ी ये में ये भर्ती निकाली गई है. इसमें कुछ संवर्गों के लिए 24 फरवरी से तथा शेष संवर्गों के लिए 2 मार्च से आवेदन किया जा सकता है.

उल्लेखनीय है कि प्रदेश में विभिन्न बेरोजगार संगठन लंबित भर्तियों को पूरा करने और नई भर्तियों की मांग को लेकर आंदोलनरत है. राज्य सरकार का कहना है कि मुख्यमंत्री ने पिछले बजट में जो घोषणा की थी उनको पूरा किया जा रहा है.

कुछ घोषणाएं तकनीकी और कानूनी पहलुओं में अटकी हुई है. इस वजह से उनमें देर हो रही है. हाल ही में राज्य सरकार ने 30,000 से अधिक तृतीय श्रेणी शिक्षकों की भर्ती भी निकाली है. वहीं अन्य विभागों की लंबित भर्ती प्रक्रियाओं को पूरा किया जा रहा है.

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

India vs England: जानिए चौथा टेस्ट से क्यों बाहर हुए जसप्रीत बुमराह

नई दिल्ली. भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह इंग्लैंड के खिलाफ चौथा और फाइनल टेस्ट नहीं खेलेंगे. उन्होंने निजी कारणों से बीसीसीआई से छुट्टी मांगी है....

हमीरपुर-सपा कार्यकर्ताओं ने धूमधाम से मनाई संत रविदास जयंती

हमीरपुर - सपा कार्यकर्ताओं ने धूमधाम से मनाई संत रविदास जयंती, कार्यकर्ताओ ने चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धा सुमन किये अर्पित, ये भी पढ़ें-अज्ञात कारणों से...

अज्ञात कारणों से देर रात्रि में लगी आग, लाखों का हुआ नुकसान

Breaking-कुशीनगर -- अज्ञात कारणों से देर रात्रि में लगी आग आधा दर्जन रिहायसी झोपड़ीया जल कर हुई खाक घर मे रखा सारा सामान भी जला, लाखों का...

इंदौर जिले में कोरोना के इतने नए मामले आये सामने

इंदौर,  मध्यप्रदेश के कोरोना प्रभावित इंदौर जिले में 122 नए मामलें कोविड़-19 की जांच के बाद सामने आए है। आधिकारिक जानकारी अनुसार जिले में अब...

संत रविदास ने भाईचारे के साथ जीवन जीने की शिक्षा दी-शिवराज

भोपाल,  मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि संत शिरोमणि रविदास जी ने ज्ञान, कर्म व भाईचारे के पवित्र भाव के साथ...