Wednesday, March 3, 2021

जानए छत्तीसगढ का कैसा होगा विधामसभा को बजट

Must read

इंदौर जिले में कोरोना के इतने नए मामले आये सामने

इंदौर,  मध्यप्रदेश के कोरोना प्रभावित इंदौर जिले में 122 नए मामलें कोविड़-19 की जांच के बाद सामने आए है। आधिकारिक जानकारी अनुसार जिले में अब...

आराधना मिश्रा न कही से बात जिससे भाजपा के नेताओ के उड़े होश

आराधना मिश्र नेता विधानमंडल दल कांग्रेस - विधानसभा के पटल पर मुख्यमंत्री ने कांग्रेस को मुख्य विपक्षी दल मान लिया है, इतनी बार कांग्रेस...

इंडस्ट्री एरिया में 2 गत्ता फैक्ट्री में लगी भीषण आग

फिरोजाबाद इंडस्ट्री एरिया स्थित 2 फैक्ट्रियों में लगी भीषण आग सिमको गत्ता फेक्टरी,ओर गोजीवा फेक्टरी ,(फिल्पकार्ड ऑनलाइन)में लगी आग,लाखो का नुकसान,कई फायर ब्रिगेड की...

हमीरपुर-सपा कार्यकर्ताओं ने धूमधाम से मनाई संत रविदास जयंती

हमीरपुर - सपा कार्यकर्ताओं ने धूमधाम से मनाई संत रविदास जयंती, कार्यकर्ताओ ने चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धा सुमन किये अर्पित, ये भी पढ़ें-अज्ञात कारणों से...

रायपुर 21 फरवरी(वार्ता)छत्तीसगढ़ विधानसभा का बजट सत्र कल से शुरू हो रहा है। सत्र के काफी हंगामेदार होने की संभावना है विधानसभा अध्यक्ष डा.चरणदास महंत ने आज यहां पत्रकारों को बताया कि बजट सत्र कल राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके के अभिभाषण के साथ शुरू होगा। अगले दिन 23 फरवरी को चार दिवंगत सदस्यों को श्रद्दांजलि दी जायेंगी और चालू वित्त वर्ष का तृतीय अनुपूरक प्रस्तुत होगा। आगामी एक मार्च को वित्त विभाग का भी दायित्व संभाल रहे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आगामी वित्त वर्ष का बजट पेश करेंगे।

उन्होने बताया कि दो दिन बजट पर सामान्य चर्चा होंगी जबकि विभागवार अनुदान मांगों पर 04 मार्च से 23 मार्च तक चर्चा होंगी। 24 मार्च को विनियोग विधेयक पेश होगा। उन्होने बताया कि अभी तक विधानसभा सचिवालय को सदस्यों के 2350 प्रश्न प्राप्त हुए है जिसमें 1226 तारांकित एवं 1089 आतारंकित है। दो मार्च तक सदस्य प्रश्न दे सकते है,इससे और प्रश्न मिलने की संभावना है।अभी तक 24 स्थगन सूचनाएं भी प्राप्त हुई है।

विपक्ष की तरफ से अविश्वास प्रस्ताव आने की खबरों के बारे में पूछे जाने पर उन्होने कहा कि बजट सत्र में आमतौर पर अविश्वास प्रस्ताव की सूचना को स्वीकार नही किया जाता है।अगर इस तरह की सूचना मिलती है तो नियमों एवं परम्पराओं के अनुसार निर्णय होगा।उन्होने बताया कि बजट सत्र के दौरान कोविड प्रोटोकाल का पूरा ध्यान रखा जायेंगा।अध्यक्षीय दीर्घा एवं दर्शक दीर्घा बन्द रहेंगी और विधायकों के सुरक्षाकर्मियों को भी परिसर मे प्रवेश की अनुमति नही होंगी।

बजट सत्र के काफी हंगामेदार होंने की संभावना है। समर्थन मूल्य पर धान खरीद,आपराधिक घटनाओं समेत कई मुद्दों को मुख्य विपक्षी दल भाजपा के साथ ही जनता कांग्रेस द्वारा भी उठाए जाने की संभावना है।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

भारत नेट परियोजना के पूरा होने में कई कारणों से हुई देरी- भूपेश

रायपुर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज विधानसभा में स्वीकार किया कि भारत नेट परियोजना फेस टू के क्रियान्वयन में देरी हुई है,इसके...

कोल्हापुर फैक्टरी में भीषण आग लगी

कोल्हापुर,  महाराष्ट्र में कोल्हापुर के हाथकानानगाले शहरी तहसील की लक्ष्मी औद्योगिक एस्टेट में एक फैक्टरी में मंगलवार को भीषण आग लग जाने से कम...

सरकार के जवाब से असंतुष्ट सपा सदस्यों ने किया परिषद से बहिर्गमन

लखनऊ,  उत्तर प्रदेश विधान परिषद में कृषि मण्डी संशोधन अधिनियम संशोधन कर मण्डियों की उपयोगिता कम करने के संबंध में दी सूचना पर सरकार...

फर्रुखाबाद जिला पंचायत सदस्यों की आरक्षण सूची जारी

फर्रुखाबाद जिला प्रशासन द्वारा जिला पंचायत सदस्यों की आरक्षण सूची जारी कर दी गयी। राजेपुर प्रथम : अनारक्षित राजेपुर द्वितीय : पिछड़ी जाति महिला राजेपुर तृतीय :...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने बजट को लेकर कही ये बात

भोपाल, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्यप्रदेश का आज विधानसभा में प्रस्तुत वार्षिक बजट प्रदेश को प्रगति पथ पर ले...