Wednesday, April 14, 2021

कमलनाथ सरकार फिर से खोलेगी व्यापम की फ़ाइल, 100 नई एफआईआर

Must read

गर्मियों के मौसम में “बारिश की जाए” गाना मचा रहा है सोशल मीडिया पर धूम

सच्ची घटना पर आधारित एक गाना जिसके बोल हैं बारिश कि जाए ने सोशल मीडिया पर धूम मचा दिया है. मोहल्ले की गली हो...

बीआरओ एक्स सर्विसमैन ने की, सेना के समान सुविधाओं की मांग

नयी दिल्ली  सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) के सेना का अटूट अंग होने के बावजूद इसके अधिकारियों एवं जवानों को सेना के अन्य अधिकारियों एवं...

कोरोना को नियंत्रित करने के लिए विशेष सतर्कता बरती जाएं, चिकित्सा शिक्षा मंत्री

सहारनपुर।प्रदेश के वित्त, संसदीय कार्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा कि कोरोना को नियंत्रित करने के लिए विशेष सतर्कता बरती जाएं।...

भाजपा किसी भी स्तर पर जाकर चुनाव लड़ती है,अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि आगामी वर्ष 2022 में उत्तर प्रदेश का चुनाव देश का...

मध्य प्रदेश के बहुचर्चित व्यापम महाघोटाले की जांच से अब शायद ही कोई आरोपी बच पाए | कमलनाथ सरकार 1200 से ज़्यादा शिकायतों की जांच करा रही है | अब तक की जांच के बाद खबर है कि करीब 100 FIR दर्ज करायी जाएगी | जिसमें 500 लोगों के नाम हो सकते हैं | ये वो मामले हैं जिन्हें CBI ने बिना जांच किए ही STF को लौटा दिया था | एसटीएफ की राडार पर शिवराज सरकार में रहे कई मंत्री, आईएएस और आईपीएस अफसर हैं | कांग्रेस ने सरकार में आने से पहले ही शिवराज सरकार के दौरान हुए व्यापम घोटाले की जांच का वादा जनता से किया था | अब कांग्रेस सत्ता में है और अपना वादा पूरा कर रही है |

सरकार के निर्देश के बाद एसटीएफ हरकत में आ गई है | उसने पेंडिंग शिकायतों की जांच तेज कर दी है | 1200 शिकायतों का वेरिफिकेशन किया जा चुका है | उसमें से 197 शिकायतों में बयान लिए जा रहे हैं | पूरे प्लान के तहत यह जांच चल रही है | इसकी जद में शिवराज सरकार में रहे कई मंत्री, प्रदेश के आईपीएस, आईएएस अफसरों और रसूखदार लोग भी आ गए हैं.एसटीएफ सभी के खिलाफ सबूत जुटा रही है |

जिन 197 पेंडिंग शिकायतों की जांच की जा रही है उसके लिए भोपाल, इंदौर और ग्वालियर में एसआईटी बनायी गयी हैं | इन एसआईटी को ज़िले के एसटीएफ एसपी लीड कर रहे हैं | एसटीएफ सूत्रों से पता चला है कि इनमें से करीब 100 ऐसी शिकायतें हैं, जिनमें एफआईआर करायी जा रही है, उनमें से 500 लोगों को आरोपी बनाया जाएगा | शिकायतों की जांच में शिवराज सरकार के कई मंत्री, आईएएस, आईपीएस अफसरों और रसूखदारों के नाम सामने आ रहे हैं |

- Advertisement -

More articles

Latest article

मंदिर में शादी कर लांखो की नकदी और जवैलरी लेकर रफूचक्कर हुई लूटेरी दुल्हन

जनपद मुज़फ्फरनगर के थाना भौरा कलां क्षेत्र के गांव मोहम्मदपुर रायसिंह निवासी किसान देवेंद्र मलिक एक महिला और एक रिस्तेदार के हाथों ठगी का...

अजमेर में भगवान झूलेलाल की ज्योत एवं प्रतिमा का जुलूस निकाला

अजमेर,  राजस्थान में अजमेर में सिंधी समाज के इष्टदेव भगवान झूलेलाल के अवतरण दिवस चेटीचंड के मौके पर आज भगवान झूलेलाल की ज्योत एवं...

राजनांदगांव में कोरोना संक्रमण बढ़ा, सुविधाओं को हो रहा विस्तार

राजनांदगांव,  छत्तीसगढ़ की राजनांदगांव नगर पालिका सहित जिले में एक ही दिन में 1284 कोरोना संक्रमित मरीज सामने आये और लगभग दर्जनभर लोगों की...

जीटीए का स्थायी राजनीतिक समाधान निकाला जायेगा: शाह

लेबोंग,  केंन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को दार्जिलिंग हिल्स के लोगों को आश्वासन दिया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) गोरखालैंड क्षेत्रीय प्रशासन...

एम्स में खाली बेड कोरोना मरीजों के लिए-शिवराज

भोपाल,  मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकरण के संबंध में चिंता जाहिर करते हुए कहा कि...