Saturday, May 15, 2021

अब बीजेपी जॉइन करेंगे कल्याण सिंह

Must read

केरल की दिग्गज नेता एवं पूर्व मंत्री गौरी अम्मा का निधन

तिरुवनंतपुरम  केरल की दिग्गज राजनेताओं में शुमार एवं पूर्व मंत्री के आर गौरी अम्मा का उम्रजनित बीमारी से मंगलवार को यहां एक निजी अस्पताल...

गहलोत सरकार विदेशों से खरीदेगी कोरोना वैक्सीन, निकालेगी ग्लोबल टेंडर!

जयपुर. प्रदेश में कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) की कमी को दूर करने के लिए गहलोत सरकार ने अब इसकी खरीद की तैयारी कर ली है....

मोदी ने कहा- हम एक अदृश्य शत्रु से युद्ध लड़ रहे; ग्रामीण इलाकों में तेजी से फैल रहा कोरोना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को किसान सम्मान निधि स्कीम की 8वीं किस्त वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जारी की। इस दौरान प्रधानमंत्री के संबोधन...

तेरहवीं का कार्यक्रम निरस्त कर गांव में वितरित किया सैनेटाइजर और मॉस्क

शाजापुर,  वैश्विक महामारी कोरोना से निपटने के लिए सरकारी प्रयासों के बीच ग्रामीण अंचलों में भी नागरिकों की अनुकरणीय पहल सामने आ रही हैं।...

बीजेपी(BJP) के पूर्व सदस्य कल्याण सिंह राजस्थान(Rajasthan) के राज्यपाल के पद से सेवानिवृत्त होकर एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी (BJP) का हाथ थामेंगे। 87 साल के कल्याण सिंह(Kalyan Singh) सोमवार को बीजेपी की सदस्यता लेकर राजनीति में फिर सक्रिय होंगे। वहीं, पूर्व केंद्रीय मंत्री कलराज मिश्र(Kalraj Mishra) ने राजस्थान के राज्यपाल पद की शपथ ग्रहण की।

कल्याण सिंह सोमवार को लखनऊ पहुंच रहे हैं। यहाँ बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, उन्हें पार्टी कार्यालय लाएंगे और उन्हें बीजेपी की सदस्यता दिलाएंगे। रविवार शाम कल्याण सिंह ने अपनी राजस्थान राज्यपाल(Governer) की गद्दी छोड़ दी। राजस्थान राजभवन में महामहिम राज्यपाल कल्याण सिंह की विदाई पार्टी हुई थी जिसे राजभवन के कर्मचारियों ने आयोजित किया था। इस पार्टी में कल्याण सिंह भावुक हो गए और उन्हें कहा कि मुझसे बीते 5 सालों में कोई गलती हो गई हो तो मुझे माफ कर देना। बताया जा रहा है कि कल्याण सिंह के इन शब्दों को सुनकर राजभवन के कर्मचारियों की आंखें नम हो गईं थी। वहीँ लंबे समय तक पार्टी के प्रमुख रणनीतिकार कल्याण ने आगे की भूमिका के लिए खुद को तैयार करना शुरू कर दिया है। वहीं अयोध्या में राम मंदिर निर्माण और 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में कल्याण सिंह एक बड़ी भूमिका में नजर आ सकते हैं।

कलराज मिश्र ने राजस्थान के राज्यपाल की गद्दी संभाली

गौरतलब है कि सोमवार दोपहर 1 बजे कलराज मिश्र ने राजस्थान के राज्यपाल की गद्दी संभाली। राजस्थान के राजभवन में उन्होंने नए राज्यपाल के रूप में शपथ ग्रहण की। शपथ ग्रहण करने से पहले कलराज मिश्र अपनी पत्नी सत्यवती मिश्रा के साथ जयपुर के सबसे प्रसिद्ध मोती डूंगरी गणेश मंदिर में गए। शपथ लेकर राज्यपाल का पदभार सँभालने जयपुर(Jaipur) पहुंचे कलराज मिश्रा का स्वागत राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट, विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी सहित अन्य नेताओं ने गर्मजोशी के साथ किया।

- Advertisement -

More articles

Latest article

आज़म खां की पत्नि ने दिया बड़ा बयान

रामपुर...... शहर विधायक एवम् आज़म खां की पत्नि डॉ तज़ीन फातिमा ने ईद के मौक़े पर कहा कि त्योहार ख़ुशी के लिए मनाये जाते...

बच्चों में कोविड-19 – क्या होते हैं लक्षण, क्या किया जाए

नई दिल्ली. एक तरफ जहां वयस्क और बुजुर्गों में कोविड-19 वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) के लिए होड़ मची हुई है, वहीं फिलहाल एक वर्ग ऐसा भी...

तमिलनाडु और असम में नए मंत्रियों पर कितने हैं आपराधिक केस और कितनी है संपत्ति उनकी, जानें

असम में हुए ताजा चुनावों में 7 फीसद मंत्रियों ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किए हैं। वहीं 14 मंत्रियों की औसतन संपत्ति 4.78...

असम के नगांव में आकाशीय बिजली गिरने से 18 हाथियों की मौत

गुवाहाटी. असम (Assam) के नगांव जिले (Nagaon) में जंगल में आकाशीय बिजली गिरने से 18 हाथियों (Elephants) की मौत हो गई. वन विभाग के एक...

जब असम पहुंचे बंगाल के गवर्नर धनखड़ तो पैरों में गिर पड़ी महिलाएं, जानें वजह

गुवाहाटी-पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने रणपगली में कैंप का दौरा किया और लोगों से मुलाकात की। चुनाव के बाद पश्चिम बंगाल में...