Tuesday, March 2, 2021

हाथरस मामलाः पीड़ित परिवार और गवाहों को सीआरपीएफ सुरक्षा, सीबीआई जांच की निगरानी करेगा हाईकोर्ट

Must read

मारुति की बिक्री इतनी फ़ीसदी बढ़ी, जानकर होंगे हैरान

नई दिल्ली यात्री वाहन बनाने वाली देश की सबसे बड़ी कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड ने इस वर्ष फरवरी में कुल मिलाकर 164469 वाहनों...

सहारनपुर में दान दी गई भूमि को लेकर धोखाधड़ी, जाने पूरा मामला

सहारनपुर में दान दी गई भूमि को करोड़ों रुपए की धोखाधड़ी कर बेचने का मामला सामने आया है और यह मामला अध्यापिका से सुप्रीम...

महिला ने लगाई फांसी, वजह जान हो जायेगे हैरान

फर्रुखाबाद ब्रेकिंग संदिग्ध परिस्थितियों में महिला ने लगाई फांसी हुई मौत महिला का शव घर के अंदर कमरे में फांसी के फंदे पर लटकता मिला मृतका के...

अज्ञात कारणों से देर रात्रि में लगी आग, लाखों का हुआ नुकसान

Breaking-कुशीनगर -- अज्ञात कारणों से देर रात्रि में लगी आग आधा दर्जन रिहायसी झोपड़ीया जल कर हुई खाक घर मे रखा सारा सामान भी जला, लाखों का...

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने हाथरस मामले की सीबीआई जांच की निगरानी इलाहाबाद हाईकोर्ट को करने का आदेश दिया है। चीफ जस्टिस एसए बोब्डे की अध्यक्षता वाली बेंच ने कहा कि ट्रायल यूपी से दिल्ली ट्रांसफर करने पर बाद में विचार किया जाएगा। कोर्ट ने कहा कि जांच पूरी होने के बाद ट्रायल को ट्रांसफर करने पर विचार किया जाएगा, अभी नहीं। कोर्ट ने पिछले 15 अक्टूबर को फैसला सुरक्षित रख लिया था।
कोर्ट ने हाथरस केस में पीड़ित परिवार और गवाहों को एक हफ्ते के अंदर सीआरपीएफ की सुरक्षा मुहैया कराने का निर्देश दिया। कोर्ट ने कहा कि हम यूपी सरकार की सुरक्षा से संतुष्ट हैं। हम उस पर कोई सवाल नहीं उठा रहे हैं परन्तु विश्वास बहाली के लिए किसी भी आशंका या अवधारणा को दूर करने के लिए सुरक्षा का जिम्मा सीआरपीएफ को दे रहे हैं।
सुनवाई के दौरान यूपी सरकार की ओर से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा था कि कोर्ट ने परिवार की सुरक्षा और वकील की उपलब्धता पर विस्तार से जानकारी देते हुए हलफनामा दाखिल किया है। परिवार ने बताया कि उन्होंने सीमा कुशवाहा को वकील नियुक्त किया है। उत्तर प्रदेश सरकार ने कहा था कि पीड़ित परिवार को सुरक्षा मुहैया करा दी गई है। घर में सीसीटीवी भी लगा दिए गए हैं।
यूपी के डीजीपी की तरफ से वरिष्ठ वकील हरीश साल्वे ने कहा था कि पीड़ित परिवार को सीआरपीएफ की सुरक्षा की मांग की गई है। हम पीड़ित की सुरक्षा को इसके लिए भी तैयार हैं लेकिन कृपया इसे यूपी पुलिस पर नकारात्मक टिप्पणी की तरह न लिया जाए। चीफ जस्टिस ने कहा था कि हमने यूपी पुलिस पर कोई नकारात्मक टिप्पणी नहीं की है।
यूपी सरकार ने हलफनामा दायर कर कहा था कि पीड़ित परिवार को पर्याप्त सुरक्षा दी जा रही है। पीड़ित के गांव और घर के बाहर बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं। यूपी सरकार ने कहा था कि पीड़ित के परिवार के हर सदस्य को निजी सुरक्षकर्मी दिए गए हैं। घर के आसपास 8 सीसीटीवी लगाए गए हैं। यूपी सरकार ने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट जांच की निगरानी करे।
याचिका सामाजिक कार्यकर्ता सत्यमा दुबे, विकास ठाकरे, रुद्र प्रताप यादव और सौरभ यादव ने दायर की थी। याचिका में कहा गया है कि यूपी में मामले की जांच और ट्रायल निष्पक्ष नहीं हो सकती है। याचिकाकर्ताओं की ओर से वकील संजीव मल्होत्रा ने कहा था कि पुलिस का यह बयान कि परिवार की इच्छा के मुताबिक शव का दाह-संस्कार किया गया है, झूठा है, क्योंकि पुलिसकर्मियों ने खुद ही शव का अंतिम संस्कार कर दिया। याचिका में इस मामले की निष्पक्ष जांच के लिए सीबीआई या सुप्रीम कोर्ट या हाईकोर्ट के एक वर्तमान या रिटायर्ड जज की निगरानी में एसआईटी बनाने का निर्देश देने की मांग की गई है। याचिका में इस मामले का ट्रायल उत्तर प्रदेश से दिल्ली ट्रांसफर करने की मांग की गई थी।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

सरकार के जवाब से असंतुष्ट सपा सदस्यों ने किया परिषद से बहिर्गमन

लखनऊ,  उत्तर प्रदेश विधान परिषद में कृषि मण्डी संशोधन अधिनियम संशोधन कर मण्डियों की उपयोगिता कम करने के संबंध में दी सूचना पर सरकार...

फर्रुखाबाद जिला पंचायत सदस्यों की आरक्षण सूची जारी

फर्रुखाबाद जिला प्रशासन द्वारा जिला पंचायत सदस्यों की आरक्षण सूची जारी कर दी गयी। राजेपुर प्रथम : अनारक्षित राजेपुर द्वितीय : पिछड़ी जाति महिला राजेपुर तृतीय :...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने बजट को लेकर कही ये बात

भोपाल, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्यप्रदेश का आज विधानसभा में प्रस्तुत वार्षिक बजट प्रदेश को प्रगति पथ पर ले...

बजाज ने लांच की नयी इलेक्टिक स्टार्ट प्लैटिना 100

नयी दिल्ली दोपहिया वाहन निर्माता कंपनी बजाज ऑटो ने मंगलवार को नयी प्लैटिना इलेक्ट्रिक स्टार्ट 100 को देश में लांच कर दिया और इसकी...

जानिए इंग्लैंड के खिलाफ एकदिवसीय सीरीज बुमराह क्यों रहेंगे बाहर

अहमदाबाद,  भारत के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह इंग्लैंड के खिलाफ एकदिवसीय सीरीज से भी बाहर रह सकते हैं और इस तरह भारतीय टीम में...