कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने विकास दुबे की मौत पर उठाए सवाल, नरोत्तम मिश्रा ने दिया कड़ा जवाब

0
278

8 पुलिसकर्मियों को शहीद करने वाला मोस्ट वांटेड गैंगस्टर विकास दुबे एनकाउंटर में मारा गया है। लेकिन अब विपक्ष योगी सरकार पर निशाना साधते हुए नजर आ रहा है। पहले जहां अखिलेश यादव ने इस एनकाउंटर पर सवाल खड़े किए। वहीं अब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने भी एनकाउंटर पर सवाल खड़े कर दिए हैं। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा है कि जिस का शक था वही हो गया।

दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर कहा कि जिसका शक था वह हो गया। विकास दुबे का किन-किन राजनैतिक लोगों से पुलिस व अन्य शासकीय अधिकारियों से उसका संपर्क था, अब उजागर नहीं हो पाएगा। पिछले तीन-चार दिनों में विकास दुबे के दो अन्य साथियों का भी एनकाउंटर हुआ है लेकिन तीनों एनकाउंटर का पैटर्न एक समान क्यों है?

इसके बाद दिग्विजय सिंह ने एक और ट्वीट कर लिखा है कि यह पता लगाना आवश्यक है विकास दुबे ने मध्य प्रदेश के उज्जैन महाकाल मंदिर में सरेंडर के लिए क्यों चुना? मध्यप्रदेश के कौन से प्रभावशाली व्यक्ति के भरोसे वह यहां उत्तर प्रदेश पुलिस के एनकाउंटर से बचने आया था?

वह इसके बाद मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने इसका जवाब देते हुए कहा कि कांग्रेस और दिग्विजय सिंह खाली बैठे हुए हैं। वह तो हर बात को लेकर बयान देने आ जाते हैं। उन्हें इससे मतलब नहीं है कि उसमें सच्चाई कितनी है। उनके पास इसके लिए कई सवाल हैं लेकिन आम लोगों को देने के लिए उनके पास समय नहीं है। जनता ने उन्हें जब मौका दिया था तो वह कुछ और ही करने में लगे थे। कल जिंदा पकड़ा था तो सवाल कर रहे थे। आज मर गया तो सवाल कर रहे हैं। उन्हें तो बैठ बैठ ट्वीट करना आता है। यह ठीक नहीं है। जब आतंकी किसी को मारता है तो यह मातम नहीं मनाते लेकिन उसके मरने पर मातम मनाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here