मंत्री ही नही चलाते हैं सरकार, उनके साथ होती है ये खास सेना !

0
86

2019 लोकसभा में 542 सीटों पर चुनाव हुआ और इसमें बीजेपी को धमाकेदार जीत मिली | जिसके बाद एक बार फिर नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बने | मोदी के प्रधानमन्त्री बनते ही लोग मोदी के मंत्रिमंडल के बारे में बाते करने लग गए थे | मोदी के मंत्रिमंडल में कई बड़े बदलाव हुए | नरेंद्र मोदी कि कैबिनेट में सबसे बड़ा बदलाव यह हुआ है कि अमित शाह जो पहले बीजेपी अध्यक्ष थे वह अब गृह मंत्री बन गए है साथ ही राजनाथ सिंह को रक्षा मंत्रालय दे दिया गया और और निर्मला सीतारमण को वित्त मंत्रालय दिया गया है |

अब यह सब मंत्री तो बन गए है लेकिन यह सब मंत्री अकेले काम नहीं करते है | इन सब मंत्रियो के साथ इनकी पूरी टीम काम करती है | आइये आपको बताते है कि इन सभी मंत्रियो की देखरेख में कौन क्या काम करता है |

एक कैबिनेट मंत्री के कार्यक्षेत्र में कुल 15 कर्मचारी कार्यरत है | इन कर्मचारियों में प्राइवेट सेक्रटरी से लेकर चपरासी तक होते है | यानी इन सभी मंत्रियो को 15 कर्मचारी दिए जाते है जो की सभी काम संभालते है |
कैबिनेट मंत्री अमित शाह, राजनाथ सिंह , निर्मला सीतारमन , स्मृति ईरानी जैसे मंत्रियो को यह सब कर्मचारी मिलेंगे :-

निजी सचिव – 1
अतिरिक्त निजी सचिव – 2
सहायक निजी सचिव – 2
पहला निजी सहायक – 1
दूसरा निजी सहायक – 1
हिंदी आशुलिपिक – 1
एलडीसी- 1
ड्राइवर – 1
जमादार – 1
चपरासी – 4

यह सब कुल मिलाकर 15 लोग है जो की एक कैबिनेट मंत्री को दिए जाते है | ऐसे ही एक राज्य मंत्री को भी 13 कर्मचारी दिए जाते है जो की सभी काम संभालते है| राज्य मंत्री जैसे प्रताप चंद्र सारंगी, अनुराग ठाकुर, अश्विनी कुमार चौबे की देखरेख में यह सब कर्मचारी काम करेंगे

निजी सचिव – 1
अतिरिक्त निजी सचिव – 1
सहायक निजी सचिव – 1
पहला निजी सहायक – 1
दूसरा निजी सहायक – 2
हिंदी आशुलिपिक – 1
एलडीसी- 1
ड्राइवर – 1
जमादार – 1
चपरासी – 3

वह राज्य मंत्री जिन्हे अतिरिक्त स्वतंत्र प्रभार दिया जाता है उनको कुछ और कर्मचारी मिलते है | यह कुल 6 होते है | मंत्री जैसे किरण रिजिजू, संतोष गंगवार, प्रह्लाद सिंह पटेल जैसे नेताओ की देखरेख में यह सब मंत्री कार्यरत है |

अतिरिक्त निजी सचिव – 1
पहला निजी सचिव – 1
दूसरा निजी सचिव – 1
एलडीसी- 1
परिचारक – 1
चपरासी – 1

वह मंत्री जिन्हे स्वतन्त्र प्रभार से अतिरिक्त दूसरे प्रभार दिए जाते है उन्हें 3 कर्मचारी और दिए जाते है |

अतिरिक्त निजी सचिव – 1
दूसरा सचिव – 1
एलडीसी- 1

संसद सचिव को भी 5 कर्मचारी दिए जाते है |
निजी सचिव – 1
पहला निजी सचिव – 1
दूसरा निजी सचिव – 1
ड्राइवर – 1
चपरासी – 1

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here