Friday, May 14, 2021

भदोही में कार्यकर्ताओं को नजर अंदाज करना भाजपा को पड़ा भारी

Must read

बस्ती मे दहेज उत्पीड़न के मामले मे छह के विरूद्ध मुकदमा

बस्ती  उत्तर प्रदेश में बस्ती जिले के परशुरामपुर थाना क्षेत्र में दहेज उत्पीड़न की घटना के मामले में पति समेत छह के खिलाफ महिला...

तिरुपति में ऑक्सीजन आपूर्ति में रुकावट से 10 कोरोना मरीजों की मौत

तिरुपति, आंध्र प्रदेश के तिरुपति में रुइयाअस्पताल के आईसीयू वार्ड में ऑक्सीजन की आपूर्ति बाधित होने के कारण कम से कम 10 कोविड-19 मरीजों...

भाजपा विधायकों ने एक माह का वेतन सीएम फंड में जमाकराने का निर्णय लिया

जयपुर राजस्थान विधानसभा में प्रतिपक्ष के गुलाब चन्‍द कटारिया ने बताया कि भारतीय जनता पार्टी के समस्‍त विधायको का एक माह का वेतन मुख्‍यमंत्री...

UP में गांव की ओर चला कोरोना, हफ्ते भर के अंदर संक्रमितों की हैरान करने वाली संख्या

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) की रफ्तार मेट्रो शहरों में धीमी हो रही है. यहां संक्रमण दर कम हो रहा है लेकिन...

भदोही  उत्तर प्रदेश की कालीन नगरी भदोही में गांव की सरकार बनाने पंचायत चुनाव में उतरी सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को करारी शिकस्त का करना पड़ा है।

नाम न सामने लाने की शर्त पर भदोही जिले के भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने यूनीवार्ता को बताया कि छोटे-मझोले कार्यकर्ताओं व नेताओं को नजर अंदाज करना पार्टी को भारी पड़ गया। यही वजह रही कि अब तक भदोही जिले के नगर निकाय से लेकर हर छोटा-बड़ा चुनाव अपने पाले में करने वाली भाजपा पंचायत चुनाव में भदोही जिले में कहीं तीसरे तो कहीं पांचवे स्थान पर रही।

उन्होने कहा कि भदोही जिले के 26 वार्डों में जिला पंचायत के अधिकतर ऐसे लोगों को जिला संगठन ने प्रत्याशी बनाया जिसका पार्टी से दूर-दूर तक कोई नाता नहीं था और पार्टी का झंडा-डंडा उठाने वालों का भदोही जिला संगठन ने उपेक्षा की। यही वजह है कि सूबे के सबसे छोटे जिले भदोही में सत्तासीन दल को पंचायत चुनाव में करारी शिकस्त का मुंह देखना पड़ा।

- Advertisement -

More articles

Latest article

आज़म खां की पत्नि ने दिया बड़ा बयान

रामपुर...... शहर विधायक एवम् आज़म खां की पत्नि डॉ तज़ीन फातिमा ने ईद के मौक़े पर कहा कि त्योहार ख़ुशी के लिए मनाये जाते...

बच्चों में कोविड-19 – क्या होते हैं लक्षण, क्या किया जाए

नई दिल्ली. एक तरफ जहां वयस्क और बुजुर्गों में कोविड-19 वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) के लिए होड़ मची हुई है, वहीं फिलहाल एक वर्ग ऐसा भी...

तमिलनाडु और असम में नए मंत्रियों पर कितने हैं आपराधिक केस और कितनी है संपत्ति उनकी, जानें

असम में हुए ताजा चुनावों में 7 फीसद मंत्रियों ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किए हैं। वहीं 14 मंत्रियों की औसतन संपत्ति 4.78...

असम के नगांव में आकाशीय बिजली गिरने से 18 हाथियों की मौत

गुवाहाटी. असम (Assam) के नगांव जिले (Nagaon) में जंगल में आकाशीय बिजली गिरने से 18 हाथियों (Elephants) की मौत हो गई. वन विभाग के एक...

जब असम पहुंचे बंगाल के गवर्नर धनखड़ तो पैरों में गिर पड़ी महिलाएं, जानें वजह

गुवाहाटी-पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने रणपगली में कैंप का दौरा किया और लोगों से मुलाकात की। चुनाव के बाद पश्चिम बंगाल में...