Saturday, November 28, 2020

घोटालेबाज़ के आरोपित मंत्री के लिए हुआ बिहार की उपमुख्यमंत्री को दुःख

Must read

सुशील मोदी लालू के पीछे पड़े, कथित नंबर ट्वीट कर किया वायरल

बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी के द्वारा ट्वीट कर लालू यादव का कथित मोबाइल नंबर सार्वजनिक किया गया। साथ ही एनडीए सरकार...

मुंबई 26/11 Attack : मुंबई का काला दिन, जानें क्या हुआ था उस दिन…

मुंबई में 26 नवंबर 2008 को हुए आतंकी हमले की आज 11वीं बरसी है। इस हादसे ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया था।...

Arnab Goswami Case में अंतरिम जमानत पर Supreme Court ने सुनाया अपना ये आखरी फैसला

नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट ने अर्णब गोस्वामी को राहत दी है। कोर्ट ने अपने फ़ैसले में कहा कि गोस्वामी के खिलाफ दायर एफआईआर...

Breaking news : कोरोना संकट पर PM मोदी की बैठक, केजरीवाल ने मांगे और 1000 ICU बेड…

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में आज यानि मंगलवार को मुख्यमंत्रियों की बैठक हुई है। इस बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी...

बिहार के शिक्षा मंत्री मेवालाल चौधरी को लेकर राजनीति गर्म है. घोटाले के आरोपी मेवालाल चौधरी को लेकर विपक्ष नीतीश सरकार को घेर रहा है. सरकार की फजीहत भी हो रही है. उसके बाद बीजेपी बचाव में उतर गई है.
आरोप लगाने से कोई दोषी नहीं होताबिहार के डिप्टी सीएम रेणु देवी ने कहा कि किसी पर आरोप लग जाने से कोई दोषी नहीं हो जाता है. मेवालाल चौधरी अच्छे और सुलझे हुए नेता हैं. वही, वैशाली में रेणु देवी मेवालाल पर बयान देने से बचती हुई नजर आई. कहा कि आगे देखा जाएगा. मेवालाल चौधरी ने आज शिक्षा मंत्री का पदभार ग्रहण कर लिया हैं. मंत्री पद का शपथ लेने के बाद वह तीसरे दिन शपथ लिए हैं. शपथ से पहले सीएम नीतीश कुमार ने कल शाम उनको अपने आवास पर तलब किया था.

मेवालाल पर घोटाला का आरोप

गौरतलब है कि नीतीश कुमार ने बिहार के बड़े नौकरी घोटाले के आरोपी को अपना शिक्षा मंत्री बनाया है. बिहार के नये शिक्षा मंत्री बने मेवालाल चौधरी पर कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति रहते नौकरी में भारी घोटाला करने का आरोप है. उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज है. देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोबिंद ने बिहार का राज्यपाल रहते मेवालाल चौधरी के खिलाफ जांच करायी थी और उन पर लगे आरोपों को सच पाया था. ये जांच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहल पर हुई थी. मेवालाल चौधरी पर सबौर कृषि विश्वविद्यालय के भवन निर्माण में भी घोटाले का आरोप है. सबसे बड़ी बात ये है कि मेवालाल चौधरी के इस बड़े घोटाले के खिलाफ सत्तारूढ जेडीयू के नेताओं ने भी आवाज उठायी थी. विधान परिषद में जेडीयू विधान पार्षदों ने मेवालाल चौधरी के खिलाफ हंगामा ख़ड़ा कर दिया था. वहीं बाद में बीजेपी के नेता सुशील कुमार मोदी ने इसे जोर शोर से उठाया था. सुशील कुमार मोदी सबूतों का पुलिंदा लेकर तत्कालीन राज्यपाल रामनाथ कोबिंद से मिले थे. इसके बाद जांच हुई और जांच में पाया गया कि मेवालाल चौधरी ने कृषि विश्वविद्यालय का कुलपति रहते बड़ा घोटाला किया. ये घोटाला 161 सहायक प्राध्यापकों की नियुक्ति में हुआ था. मेवालाल चौधरी पर लगे आरोपों को लेकर विपक्षी पार्टियां लगातार सरकार पर हमला बोल रही हैं. लेकिन नीतीश कुमार ने चुप्पी साध रखी है.

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

खराब हो गया है तेजस्वी यादव का मानसिक संतुलन : युवा JDU

बेगूसराय : विधानसभा में राजद नेता तेजस्वी यादव द्वारा मुख्यमंत्री पर किए गए बयानबाजी के विरुद्ध शनिवार को युवा जदयू के कार्यकर्ताओं ने बेगूसराय...

किसान की आय बढ़ाने वाला कानून सरकार कब ला रही है : अखिलेश यादव

लखनऊ : किसान आंदोलन (Farmer Protest) के प्रति सरकार के रवैए पर तीखी प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त करते हुए समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और यूपी के...

चीनी वैज्ञानिकों का Corona Virus को लेकर दावा- भारत ने दुनियाभर में फैलाया वायरस

नई दिल्ली : दुनियाभर में कोरोना वायरस फैलाने वाला चीन अब भारत के सिर पर कोरोना का दोष मारन। ये बात कुछ अजीब लग...

LJP का 20वां स्थापना दिवस आज, चिराग ने पर्सनल अटैक पॉलिटिक्स के लिए नीतीश-तेजस्वी दोनों को दोषी बताया

आज एलजेपी का 20वां स्थापना दिवस है और पार्टी कोरोना से बचाव के बीच LJP स्थापना दिवस समारोह मनाएगी. पार्टी ने पहले ही यह...

U.P : केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति हुई कोरोना संक्रमित, AIIMS दिल्ली किया रेफर

कानपुर : केंद्रीय ग्रामीण विकास राज्यमंत्री और फतेहपुर की सांसद साध्वी निरंजन ज्योति कोरोना संक्रमित होने पर उन्हें बेहतर इलाज के लिए कानपुर के...