अब ताजमहल गिरवाना चाहते हैं आज़म खान!!

0
75

समाजवादी पार्टी से सांसद आज़म खान की मुश्किलें लगातार बढ़ती ही जा रही हैं | इस सब के लेकर आज़म खान ने एक बड़ा बयान दिया है | कानूनी शिकंजे में फंसे आज़म खान ने जौहर विश्वविद्यालय के बचाव में कहा है कि अगर ताजमहल की जगह 2 हजार विश्वविद्यालय बने होते तो मुस्लिम विश्व का सबसे पढ़ा-लिखा समुदाय होता | एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू में आज़म ने कई मुद्दों पर अपनी बात कही हैं | आज़म ने कहा कि पासपोर्ट में एक गलती से यह मतलब नहीं है कि उनका लादेन से संबंध है | बता दें कि बेटे अब्दुल्ला आजम दो जन्मतिथियों के मामले में फंसे है और उनके खिलाफ धोखाधड़ी करने का मामला दर्ज किया गया था |

लोकसभा स्पीकर रमा देवी पर टिप्पणी मामले में आज़म खान का कहना है कि उर्दू प्यार और मानवता की भाषा हैं | अगर मैंने एक भी गैरसंसदीय शब्द इस्तेमाल किया है तो मैं लोकसभा से इस्तीफा देने को तैयार हूं | दिक्कत ये है कि स्थानीय प्रशासन के न चाहने के बावजूद मैं लोकसभा चुनाव जीतकर सांसद बना | यही सरकार की आंखों में खटक रहा है | आज़म से जब पूछा गया कि आपने तो पहले भी विवादित बयान दिए हैं तो उनका जवाब था कि मैं लड़कियों के लिए शिक्षा संस्थान भी चलाता हूं | अगर मैं आदतन ऐसा करता तो मेरे खिलाफ दूसरी जगहों से भी शिकायत आतीं |

जौहर यूनिवर्सिटी में जमीनी विवाद पर उनका कहना है कि चार सौ बीघा जमीन खरीदी गई तो चार बीघे के जालसाजी क्यों की जाएगी? ये आरोप उन लोगों द्वारा लगाए जा रहे हैं जो पहले ही जमीनें बेच चुके हैं | इनमें से कुछ का आपराधिक इतिहास भी है | इसके लिए पहले मुझे जमीन हड़पने वाला बताया गया अब मुझे किताब चोर भी कहा जा रहा है और ऐसा इसलिए क्योंकि मैंने ऐसे मदरसे से किताबें खरीदीं जो 60 साल पहले ही बंद हो चुका है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here