चीफ जस्टिस ने अयोध्या मामले में कह दी ऐसी बात कि बढ़ गई फैसले की उम्मीद!

0
102

सुप्रीम कोर्ट में राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद(Ayodhya Case) के मुद्दे पर चल रही सुनवाई को लेकर बड़ी खबर आई है। सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने कहा है कि इस मामले(Ayodhya Case) की सुनवाई 18 अक्तूबर तक पूरी होने की उम्मीद है। मुख्य न्यायाधीश के इस बयान के बाद राम मंदिर(Ayodhya Case) के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला जल्द आने की उम्मीद बढ़ गई है।

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट में राम मंदिर मामले(Ayodhya Case) की सुनवाई 5 जजों की संविधान पीठ कर रही है और मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई भी उसमें शामिल हैं। सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई का कार्यकाल 17 नवंबर को खत्म होने जा रहा है। ऐसी संभावना है कि मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई के सेवानिवृत होने से पहले ही राम मंदिर के मामले में फैसला आ सकता है।

मध्यस्थता को तवज्जो देगी कोर्ट

मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने कहा है इस मामले पर समय पर सुनवाई को पूरा करने के लिए अगर जरूरत पड़ी तो शनिवार को भी सुनवाई की जाएगी। बुधवार को सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या मामले में 26वें दिन की सुनवाई हुई। इस दौरान मुख्य न्यायाधीश ने कई अहम बातें कही कि यदि पक्ष मध्यस्थता के जरिए अयोध्या मामला(Ayodhya Case) सुलझाने के इच्छुक हैं, तो वे ऐसा कर सकते हैं। सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश एफ एम आई कलीफुल्ला की अगुवाई में तीन सदस्यीय मध्यस्थता पैनल के समक्ष हो रही सुनवाई गोपनीय रहेगी। कोर्ट ने कहा कि अयोध्या मामले की सुनवाई बहुत आगे पहुंच गई है इसलिए रोजाना के आधार पर कार्यवाही जारी रहेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here