ऑस्ट्रेलिया के रिसर्चर्स कोविड-19 डीएनए वैक्सीन के शुरू करेगी ह्यूमन ट्रायल्स

0
33

कैनबेरा। यूनिवर्सिटी ऑफ सिडनी के नेतृत्व में रिसर्च टीम कोविड-19 डीएनए वैक्सीन के ह्यूमन ट्रायल शुरू करेगी। यह घोषणा शुक्रवार को की गई है।

यह जीन आधारित वैक्सीन ऑस्ट्रेलियाई बायोटेक कंपनी टेक्नोविला और इसके अंतरराष्ट्रीय वैक्सीन पार्टनर बायोनेट ने मिलकर विकसित की है। प्रीक्लीनिकल स्टडीज में यह सुरक्षित और प्रभावी सिद्ध हुई है।

ऑस्ट्रेलिया की सरकार के सहयोग के साथ यूनिवर्सिटी ऑफ सिडनी के एसोसिएट प्रोफेसर निकोलास वुड इस वैक्सीन के पहली बार ह्यूमन में क्लीनिकल इवैल्यूएशन की नेतृत्व करेंगे।

वुड ने बताया कि यह पहला फेस ऑस्ट्रेलिया में डीएनए आधारित कोविड-19 वैक्सीन का पहला ट्रायल होगा।

इस ट्रायल में न्यू साउथ वेल्स, दक्षिणी ऑस्ट्रेलिया और पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया से 18 से 75 साल की उम्र वाले 150 स्वस्थ लोगों को शामिल किया जाएगा। जिससे वैक्सीन की विभिन्न डोसो की सुरक्षा, रिएक्टोजेनेसिटी, इम्यूनोजेनेसिटी का पता लग सके।

वुड्स ने बताया कि अगर पहला चरण सुरक्षित होने का संकेत देता है तो इससे व्यापक स्तर पर दूसरे चरण के ट्रायल होंगे। यह वैक्सीन अन्य से अलग नीडल-फ्री सिस्टम के जरिए डिलीवर किया जाएगा।

यह नीडल फ्री डिवाइस के जरिए लगाया जाएगा जो त्वचा में जेट स्प्रे के जरिए प्रवेश करेगा। इसको यह ध्यान में रखते हुए डिजाइन किया गया है कि यह त्वचा के जरिए सेल्स मे जाकर इम्यून सिस्टम को मजबूत करे।

वुड ने यह भी कहा कि उन्हें उम्मीद है कि नवम्बर में ट्रायल आधिकारिक रूप से समाप्त हो जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here