अब ‘आप’ की नही रहीं अल्का लांबा, कांग्रेस का ‘हाथ’ पकड़ने की तैयारी

0
143

आम आदमी पार्टी(Aam Aadmi Party) की तरफ से विधायक रही अलका लांबा ने पार्टी का साथ छोड़ दिया है। ट्विटर पर इसकी जानकारी देने से कुछ दिन पहले उन्होंने एक और ट्वीट में सोनिया गाँधी(Sonia Gandhi) के साथ तस्वीरें शेयर की थी जिसके बाद ये अंदाज़ा लगाया जा रहा था कि वे कांग्रेस(Congress) का हाथ थाम सकती हैं। दिल्ली के चांदनी चौक से राजधानी दिल्ली (New Delhi) के चांदनी चौक (Chandni Chowk) से विधायक (MLA) अलका लांबा (Alka Lamba) ने पार्टी छोड़ने के साथ ही पार्टी के ऊपर एक सख्ती बरतनी शुरू कर दी है।

शुक्रवार सुबह 10 बजे आम आदमी पार्टी की विधायक अलका लांबा ने पार्टी छोड़ने की घोषणा करते हुए ट्वीट किया। उन्होंने लिखा ‘आम आदमी पार्टी को गुड बाय कहने और पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देने का समय आ गया है। पिछले छह साल की यात्रा में कुछ सीखने को मिला। सभी को धन्यवाद।’ इसके बाद उनके इस ट्वीट पर कई लोगों ने जवाब दिया। एक ट्विटर यूजर ने इसपर अलका की तारीफ करते हुए कहा कि ‘हम सभी जानते हैं कि आपने अपने निर्वाचन क्षेत्र के लोगों की सेवा के लिए कई महीनों तक इंतजार किया, अन्यथा यह इस्तीफा आपने पिछले साल दिसंबर में ही दे दिया होता। अच्छा फैसला है!!’ इसे रीट्वीट करते हुए अलका लांबा ने कहा कि वे बिलकुल सही कह रहे हैं।

ट्विटर पर दिया इस्तीफा

इसके बाद आम आदमी पार्टी की पूर्व सदस्य अलका लांबा ने एक और ट्वीट किया जिसमे उन्होंने सीधे पार्टी के कार्यकर्ताओं पर निशाना साधा। उन्होंने लिखा ‘अरविंद केजरीवाल(Arvind Kejriwal) जी, आपके प्रवक्ताओं ने मुझे आपकी इच्छा के अनुसार, पूरे अहंकार के साथ कहा है कि पार्टी ट्विटर पर भी मेरा त्याग स्वीकार करेगी। इसलिए कृपया आप मेरी “आम आदमी पार्टी”, जो अब “ख़ास आम आदमी पार्टी” है, की प्राथमिक सदस्यता से मेरा त्याग स्वीकार करें।’ बता दें कि उनका पार्टी को छोड़ने का एलान करना बिलकुल भी चौंकाने वाला नहीं है। उन्होंने काफी पहले ही घोषणा कर दी थी कि वे 2020 में दिल्ली विधानसभा चुनाव निर्दलीय के तौर पर लड़ेंगी। इसके बाद उनके कांग्रेस का हाथ थामने की अटकले और तेज़ हो गई हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here