लालू का करिश्मा, जेल के सीखचों से कर दिया नितीश पर हमला

0
347

लोकसभा चुनाव चल रहे हैं और इस बीच बिहार में राजनीति चरम पर है | नेताओं की बयानबाजी और आरोपों के बीच खुली चिठ्ठी भी लिखी जा रही है। राजद सुप्रीमो लालू यादव ने जेल से बिहार के सीएम नितीश कुमार को निशाने पर लेते हुए उन्हें खुला पत्र लिखा है | लालू ने इस चिठ्ठी को फेसबुक और ट्विटर पर भी शेयर किया है | पत्र के जरिये लालू ने नितीश पर जमकर निशाना साधा है | लालू ने लिखा है ‘छोटे भाई नितीश तुम्हें आजकल उजालों से कुछ ज्यादा ही नफरत हो गई हैं | दिन भर लालू और लालटेन का जाप करने पर भी तुम्हें पता नहीं कि लालटेन प्रकाश और रोशनी का पर्याय है | मोहब्बत और भाईचारे का प्रतीक है। ग़रीबों के जीवन से तिमिर हटाने का उपकरण है। हमने लालटेन के प्रकाश से ग़ैरबराबरी, नफ़रत, अत्याचार और अन्याय का अँधेरा दूर भगाया है और भगाते रहेंगे। तुम्हारा चिह्न तीर तो हिंसा फैलाने वाला हथियार है। मार-काट व हिंसा का पर्याय और प्रतीक है।”

 

लालू ने आगे लिखा “और हाँ तुम कहाँ मिसाइल के ज़माने में तीर-तीर किए जा रहे हो? तीर का ज़माना अब लद गया है। तीर अब संग्रहालय में ही दिखेगा। लालटेन तो हर जगह जलता दिखेगा और पहले से अधिक जलता हुआ मिलेगा क्योंकि 11 करोड़ ग़रीब जनता की पीठ में तुमने विश्वासघाती तीर ही ऐसे घोंपे है। बाक़ी तुम अब कीचड़ वाले फूल में तीर घोंपो या छुपाओ। तुम्हारी मर्ज़ी..”

बिहार में छह चरण के चुनाव हो चुके हैं और सातवें चरण की वोटिंग होनी शेष है। ऐसे में देखना होगा कि लालू का ये पत्र उनके लिए कितना मुफीद हो सकता है। दूसरी ओर लालू के इस पत्र पर विरोधी सवाल उठाने की तैयारी में हैं। वे पूर्व में भी लालू के फेसबुक और ट्विटर से जारी पोस्ट को लेकर सवाल खड़े करते आए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here