“यूथ” ही 21वीं सदी के भारत का भविष्य

0
172

 

https://www.facebook.com/407192986772648/posts/419412672217346/

लोकसभा चुनाव चल रहा है और हर देशवासी को इंतज़ार है की इस बार किसकी बनेगी सरकार| 5 चरण के चुनाव हो चुके है छठे चरण के तहत आज 7 राज्यों की कुल 59 सीटों पर वोटिंग जारी है। जिन सीटों पर वोटिंग हो रही है, उनमें बिहार की 8, हरियाणा की 10, झारखंड की 4, मध्य प्रदेश की 8, उत्तर प्रदेश की 14, पश्चिम बंगाल की 8 और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली की सभी 7 सीटें शामिल है। इन लोकसभा चुनावों में यूथ भी एक अहम् भूमिका निभा रहा है | दिल्ली जैसे शहरों में यूथ का भी एक बड़ा वोट बैंक है | आज का यूथ राजनीति को लेकर अहम् भूमिका निभा रहा है। कुछ साल पहले की बात की जाये तो यूथ राजनीति के विषय में ज्यादा हस्त्क्षेप नहीं करते थे लेकिन आजकल कॉलेजो से चुनाव शुरू हो जाते है और युवा को राजनीति के बारे में खुलकर बोलने की आज़ादी मिल चुकी है |

2019 में हर निर्वाचन क्षेत्र में पहली बार वोट देने वाले लगभग 1,55,000 मतदाता होंगे। 2019 में नए मतदाताओं की संख्या 8.4 करोड़ होगी। एक अनुमान के मुताबिक उत्तर प्रदेश की 65 फीसदी से अधिक लोकसभा सीटों पर यही युवा मतदाता हार-जीत में अहम भूमिका निभाएंगे।

देश का प्रधानमंत्री कौन हो?, राज्य का मुख्यमंत्री कौन हो?, विधायक कौन हो ऐसे ही विषयो पर आज का यूथ ज्यादा बात करता है। यह ज़रूरी भी है क्योकि देश आज़ाद है और वह अपना नेता कैसा हो या कौन हो इसे चुनने की ज़िम्मेदारी लेता है | यूथ ही भारत के उज्वल भविष्य का निर्माता होगा | इसलिए अगर यूथ राजनीति को अच्छे से समझ लेता है तो यह भारत देश के लिए अच्छा है |

देश में शिक्षा को अत्यधिक बढ़ावा दिया जा रहा है जिससे हमारे देश का यूथ आगे बढ़े और देश का नाम उज्जवल करे | आज पूरे विश्वभर में भारतीयों का बोल बाला है | गूगल और माइक्रोसॉफ़्ट जैसी विश्व स्तर की कंपनियों में भारतीय सीईओ बने हुए हैं और देश का नाम रोशन कर रहे है | भारत जैसे देश में यूथ की इस तरह से ज़िम्मेदारी बढ़ रही है | आज का हर यूथ जानता है कि वोट देना एक ज़रूरी काम है और यह हक़ है हमारा |

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here