बाप से जीता बीवी से हारा….

0
197

पूर्व CM न .डी. तिवारी के बेटे रोहित शेखर की हत्या के आरोप में उनकी पत्नी अपूर्वा गिरफ्तार हो चुकी है..लेकिन अब अपूर्वा की माँ मंजुला शुक्ला ने पुलिस को ऐसे तथ्य बताये है जो चौकाने वाले है..ये रोहित और उसकी माँ की एक अलग तस्वीर पेश करते है..जिसमे एक लड़की का जिक्र हुआ है जिसका नाम कुमकुम है..उन्होंने बताया की वह रोहित के घर ही रहती थी रोहित से उसके अंतरंग सम्बन्ध थे..और रोहित को वह शराब अपने हाथो से पीने के लिए देती थी..वह अपूर्वा को भी शराब पीने के लिए जोर डालते थे और बोलते थे की इससे तनाव दूर होता है…..रोहित की माँ उज्ज्वला से रोहित की बनती नहीं थी दोनों के बीच में तनाव रहता था..वह कहता था की तुमने मुझको इतने दिन अपने पिता से दूर रखा….

 

मंजुला का कहना है कि हनीमून के दौरान मसूरी  रोहित और अपूर्वा के बीच विवाद हुआ और नौबत मारपीट तक पहुंच गई थी.. इसके बाद अपूर्वा ने फोन पर मुझसे कहा था कि रोहित अपने हाथ-पैर पर चोट मार ली है और मुझे रोहित से जान का खतरा है.. अपूर्वा की मां ने पूरे विवाद का जिक्र करते हुए कि शादी के पांच दिन बाद ही रोहित के किसी दोस्त की हार्टअटैक से मौत हो गई तो रोहित अपूर्वा को लेकर मसूरी चला गया…. यहां पर अपूर्वा और रोहित में विवाद हो गया…. मारपीट की वजह से अपूर्वा को चोट भी आई थी…

 

अपूर्वा ने कई बार फोन करके कहा था कि रोहित का व्यवहार सामान्य नहीं है.. विवाद और मारपीट से परेशान अपूर्वा ने शादी के 15 दिन बाद ही अपना टिकट कराया और अपने मायके इंदौर लौट आई.. इस बीच एक दिन रोहित की माँ उज्ज्वला ने कहा- मैंने रोहित को समझा दिया है..अब विवाद नहीं होगा….

शादी के एक महीने बाद हम अपूर्वा को लेकर दिल्ली लेकर चले गए.. दिल्ली में भी रोहित और उसकी मां का व्यवहार अजीब था,इसलिए एक हम रोहित के घर पहुंचे और अपूर्वा का सामान मांगा और हम अपूर्वा को वापस इंदौर ले जाने लगे.. इसकी हमने पुलिस में भी शिकायत की थी….इसके बाद थाने से आए पुलिसकर्मियों ने अपूर्वा को उसका सामान दिलवाया था.. हम सामान लेकर इंदौर आ गए….

रिश्ता तय होने के बाद रोहित और उनकी मां उज्ज्वला का व्यवहार अजीब तरह का था.. हमें यह बार-बार अहसास कराया जाता रहा कि हम लड़की वाले हैं.. अपमान करने का जो सिलसिल रोहित-अपूर्वा की सगाई के दिन से शुरू हुआ वह शादी और फिर शादी के बाद तक जारी रहा….

रोहित और उसकी मां उज्ज्वला ने घर में मौजूद मेहमानों की मौजूदगी में हमारे साथ-साथ अपूर्वा को भी बुरी तरह अपमानित किया….

हम लोग रोहित और उज्ज्वला के अपमानित करने वाले व्यवहार से इस कदर आहत हुए थे कि हमने रिश्ता तोड़ने तक का फैसला ले लिया था.. गुस्सा इतना था कि हम लोग घर से निकल कर बाहर आ गए, लेकिन वहां मौजूद मेहमानों के समझाने-बुझाने पर हम लोगों ने सगाई की..हैरानी की बात है कि उज्ज्वला बार-बार हमसे पैसे मांगती थीं.. सगाई की रात भी कार्यक्रम खत्म होने के बाद पैसे मांगने लगीं और नहीं मिलने पर नाराजगी दिखाने लगीं….

एक रोज रोहित का फोन आया कि मेरी सर्जरी हुई है..तुम मेरे पास आ जाओ.. इस पर अपूर्वा दिल्ली लौट गई.. कुछ दिन बाद रोहित और उज्ज्वला ने अपूर्वा से विवाद किया। इस पर अपूर्वा एक बार फिर इंदौर लौट आई….

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here