साधु संत करें सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान, योगी ने कही बड़ी बात

0
63

अयोध्या के राम मंदिर-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) का बयान आया है। उन्होंने इस मामले में देश की सबसे बड़ी अदालत (Supreme Court) के संभावित फैसले को देखते हुए साधु-संतों (Holy Saints) से इसका सम्मान करने की अपील की है। इसके साथ ही उन्होंने माघ मेले को लेकर भी चर्चा की।

शनिवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने साधु-संतों की सर्वोच्च संस्था अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी (Mahant Narendra Giri) से मुलाकात कि। अपने लखनऊ स्थित आवास पर हुई मुलाकात के बाद उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद साधु-संत संयम से काम लें। उन्होंने कहा है कि देश के सभी नागरिकों को भी सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करना चाहिए। बता दें कि बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने शनिवार को अपने बयान में कहा कि संभवत: आगामी छह दिसंबर से हम अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण शुरू कर देंगे।

माघ मेले को लेकर दिया आश्वासन

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री योगी और महंत नरेंद्र गिरी की यह मुलाकात सुप्रीम कोर्ट के संभावित फैसले को लेकर हुई। इस मुलाकात को लेकर महंत गिरी ने बताया कि सीएम ने अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष से भी अयोध्या विवाद पर फैसला आने के बाद साधु-संतों से संयम बरतने की अपील की है। इसके साथ ही महंत नरेंद्र गिरि ने सीएम योगी से जनवरी 2020 में प्रयागराज में लगने वाले माघ मेले को लेकर भी चर्चा की। उन्होंने मुख्यमंत्री द्वारा माघ मेले की तैयारियों में धन की कोई कमी न आने का आश्वासन दिए जाने की बात कही। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने कुंभ मेले की तर्ज पर माघ मेले में व्यवस्था कराने जाने की बात कही है।

महंत नरेंद्र गिरी ने बताया कि कुंभ की तरह माघ मेले में भी श्रद्धालुओं की सुविधाओं का पूरा ख्याल रखा जायेगा। मेले में विद्युत व्यवस्था, स्वच्छता और स्वास्थ के साथ ही सुरक्षा की भी पुख्ता व्यवस्था की जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने माघ मेले के दौरान साधु-संतों और श्रद्धालुओं के लिए गंगाजल की पर्याप्त उपलब्धता को लेकर भी आश्वासन दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here