Wednesday, March 3, 2021

तनावमुक्त जीवन के लिए योग जरूरी : डॉ. गुप्ता

Must read

सारण में युवक की गोली मार कर हत्या, ये वजह आई सामने

छपरा,  बिहार में सारण जिले के मांझी थाना क्षेत्र में अपराधियों ने एक युवक की गोली मार कर हत्या कर दी। पुलिस सूत्रों ने सोमवार...

कानपुर देहात में प्रेमिका से मिलने गए प्रेमी का हुआ ये हाल, जानकर होंगे हैरान

कानपुर देहात, उत्तर प्रदेश में कानपुर देहात के रसूलाबाद इलाके में प्रेमिका से मिलने गए प्रेमी की उसके परिजनों ने पीट-पीट कर हत्या कर...

अशोक गहलोत ने धोखाधड़ी को लेकर कही ऐसी बात

 राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज विधानसभा में आश्वस्त किया कि अच्छा ब्याज देने का लालच देकर ठगी करने के मामला एक बड़ा...

लखीसराय में 42 कार्टन विदेशी शराब बरामद, फिर पुलिस ने किया ये काम

लखीसराय,  बिहार में लखीसराय जिले के बड़हिया थाना क्षेत्र से पुलिस ने शुक्रवार को 42 कार्टन विदेशी शराब के साथ एक तस्कर समेत तीन...

दरभंगा,  जाने-माने हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. ए. के. गुप्ता ने तनावमुक्त जीवन के लिए लोगों को योग अपनाने की सलाह देते हुए मंगलवार को कहा कि योग वास्तव में एक स्वस्थ एवं अनुशासित जीवनशैली है जिसके निरंतर अभ्यास से पूर्ण स्वास्थ्य, रोग एवं तनाव मुक्त जीवन हासिल किया जा सकता है।


डॉ. गुप्ता ने आज यहां दरभंगा चिकित्सा महाविद्यालय के स्थापना दिवस के अवसर पर ‘योग- स्वास्थ्य एवं रोग’ विषय पर व्याख्यान देते हुए कहा कि शारीरिक गतिविधि को सुचारू रखने के लिए प्रतिदिन दो से तीन किलोमीटर पैदल चलना जरूरी है। उन्होंने कहा कि यदि योग को अपनाएं तो एक ही स्थान पर रहकर विभिन्न आसनों और मुद्राओं के द्वारा शरीर के सभी अंगों का सुचारू रूप से संचालन कर उसकी क्रियाशीलता बरकरार रखकर स्वस्थ रह सकते हैं।

ये भी पढ़े – कर्नाटक में जिलेटिन छड़ों में विस्फोट से छह लोगों की मौत, मोदी ने जताया शोक

प्रतिदिन पवनमुक्तासन, सूर्य नमस्कार जैसे कुछ यौगिक आसन कर लोग अपनी शारीरिक गतिमयता कायम रख सकते हैं। हृदय रोग विशेषज्ञ ने कहा कि लोगों को स्वस्थ रखना, इसके स्वास्थ्य की रक्षा करना ही चिकित्सकों का मुख्य उद्देश्य और धर्म है। यदि चिकित्सक की जीवनशैली ही शारीरिक गतिविधि में अपर्याप्त या त्रुटिपूर्ण हो तो वह रोगी को सेवा मुक्त करने की परिकल्पना कैसे कर सकते हैं।


डॉ. गुप्ता ने कहा कि वर्तमान समय में हर व्यक्ति काम के बोझ से दबा है और उन्हें समय की भी किल्लत है। ऐसे में हम प्रतिदिन मात्र 10 से 15 मिनट ही कुछ यौगिक क्रियाओं एवं योगासन (योग कैप्सूल) का सहारा लेकर हम अच्छा स्वास्थ्य पा सकते हैं।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

भारत नेट परियोजना के पूरा होने में कई कारणों से हुई देरी- भूपेश

रायपुर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज विधानसभा में स्वीकार किया कि भारत नेट परियोजना फेस टू के क्रियान्वयन में देरी हुई है,इसके...

कोल्हापुर फैक्टरी में भीषण आग लगी

कोल्हापुर,  महाराष्ट्र में कोल्हापुर के हाथकानानगाले शहरी तहसील की लक्ष्मी औद्योगिक एस्टेट में एक फैक्टरी में मंगलवार को भीषण आग लग जाने से कम...

सरकार के जवाब से असंतुष्ट सपा सदस्यों ने किया परिषद से बहिर्गमन

लखनऊ,  उत्तर प्रदेश विधान परिषद में कृषि मण्डी संशोधन अधिनियम संशोधन कर मण्डियों की उपयोगिता कम करने के संबंध में दी सूचना पर सरकार...

फर्रुखाबाद जिला पंचायत सदस्यों की आरक्षण सूची जारी

फर्रुखाबाद जिला प्रशासन द्वारा जिला पंचायत सदस्यों की आरक्षण सूची जारी कर दी गयी। राजेपुर प्रथम : अनारक्षित राजेपुर द्वितीय : पिछड़ी जाति महिला राजेपुर तृतीय :...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने बजट को लेकर कही ये बात

भोपाल, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्यप्रदेश का आज विधानसभा में प्रस्तुत वार्षिक बजट प्रदेश को प्रगति पथ पर ले...