Wednesday, April 14, 2021

पहली बार हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) में हिस्सा ले रही ये टीम

Must read

शोपियां में कासो अभियान में तीन आतंकवादी ढेर

श्रीनगर,  जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में शुक्रवार की सुबह सुरक्षा बलों ने फिर से घेराबंदी और तलाशी अभियान (कासो) शुरू किया। इस अभियान में...

गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर जिले में रात्रि कर्फ्यू लागू

गाजियाबाद राजधानी दिल्ली से सेट उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद और गौतमबुद्ध नगर में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए दोनों जिलाधिकारियों ने गुरुवार...

चिकित्सा विभाग ने ‘ ई- संजीवनी मोबाईल एप ‘ सक्रिय किया

अजमेर  राजस्थान में कोरोना काल में घर बैठे चिकित्सा सेवा परामर्श उपलब्ध कराने के उद्देश्य से सरकार के चिकित्सा विभाग ने ' ई- संजीवनी...

अकाली दल(डेमोक्रेटिक) के नेता सुखदेव ढींडसा के आम आदमी पार्टी में शामिल होने की संभावना : चीमा

चंडीगढ, आम आदमी पार्टी और शिरोमणि अकाली दल (डेमोक्रेटिक) के गठबंधन की खबरों पर प्रतिक्रिया देते हुए विपक्ष के नेता हरपाल सिंह चीमा ने...

पहली बार हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) में हिस्सा ले रही एससी ईस्ट बंगाल और ओडिशा एफसी प्लेआफ की दौड़ से बाहर हो चुके हैं। अब शनिवार को दोनो टीमें इस सीजन का अपना अंतिम मुकाबला खेलेंगी और दोनों का ही लक्ष्य जीत के साथ अपने अभियान का समापन करना होगा।

अंक तालिका में दोनों की स्थिति एक ही जैसी है। ओडिशा जहां 11 टीमों की तालिका में सबसे नीचे है वहीं ईस्ट बंगाल नौवें स्थान पर है। दोनों के फैंस ने पूरे सीजन खुशी चाही लेकिन दोनों टीमों ने उन्हें निराश किया। अब जबकि दोनों अपना अंतिम मुकाबला खेल रही हैं तो वो जाहिर तौर पर अपने फैंस को खुशी प्रदान करना चाहेंगी।

गेंद पर कब्जे को गोल में बदलने की अक्षमता से रोबी फाउलर की टीम हमेशा जूझती रही है। ब्राइट इनोबेखर इस सीज़न में उनके एकमात्र स्ट्राइकर जिन्होंने गोल किया है। गोल करने के मामले में ईस्ट बंगाल काफी पीछे है। उनके भारतीय फारवर्ड भी नाकाम रहे हैं। जीजे लालपेखलुआ, सीके विनिथ और बलवंत सिंह जैसे बड़े नामों के बावजूद, फाउलर को निराशा हाथ लगी।

ओडिशा को भी इसी तरह के दिक्कतों का सामना करना पड़ा है। डिएगो मौरिसियो को छोड़कर कोई और खिलाड़ी आगे आकर गोल करने की जिम्मेदारी नहीं ले सका। मौरिसियो ने पूरे सीजन में अपनी टीम की ओर से किए गए कुल गोलों का 57 फीसदी गोल खुद किया।

ओडिशा के कोच स्टीवन डियास मानते हैं कि उनकी टीम गलतियों से सीख लेगी और अगले सीजन में मजबूत बनकर सामने आएगी।

कोच ने कहा, “जब आपके पास एक खराब सीजन होता है तो इस बुरे सीजन से बहुत सारी अच्छी चीजें सीखने को मिलती हैं। यही हम सब कर रहे हैं। यह सीज़न हमारे लिए अच्छा नहीं है, लेकिन इस सीज़न से सीखने के लिए बहुत सी चीज़ें हैं ताकि हम अगले सीज़न को बेहतर बना सकें।”

ओडिशा की टीम को बीते 10 मैचों से एक भी जीत नहीं मिली है। इस टीम ने सबसे अधिक मैच हारे हैं और सबसे कम संख्या में क्लीन शीट भी इसी के नाम है। इन सबके बावजूद ओडिशा और ईस्ट बंगाल मान के लिए खेलेंगे।

कोच भी यही मानते हैं। कोच ने कहा, “उनके लिए भी हमारी तरह अच्छा सीजन नहीं था। मुझे लगता है कि वे भी इस मैच को जीतने के लिए खेलेंगे। हम भी इस मैच को जीतना चाहते हैं ताकि हम सीजन एक बेहतर नोट पर समाप्त कर सकें। मैं मीटिंग्स, प्रशिक्षण सत्रों में लड़कों को प्रेरित रखने की कोशिश कर रहा हूं। वे तैयार दिखते हैं, हम तैयार हैं। उम्मीद है, यह एक बहुत अच्छा मैच होगा क्योंकि दोनों टीमें जीत की तलाश करेंगी। हम अपना सर्वश्रेष्ठ देंगे।”

- Advertisement -

More articles

Latest article

मंदिर में शादी कर लांखो की नकदी और जवैलरी लेकर रफूचक्कर हुई लूटेरी दुल्हन

जनपद मुज़फ्फरनगर के थाना भौरा कलां क्षेत्र के गांव मोहम्मदपुर रायसिंह निवासी किसान देवेंद्र मलिक एक महिला और एक रिस्तेदार के हाथों ठगी का...

अजमेर में भगवान झूलेलाल की ज्योत एवं प्रतिमा का जुलूस निकाला

अजमेर,  राजस्थान में अजमेर में सिंधी समाज के इष्टदेव भगवान झूलेलाल के अवतरण दिवस चेटीचंड के मौके पर आज भगवान झूलेलाल की ज्योत एवं...

राजनांदगांव में कोरोना संक्रमण बढ़ा, सुविधाओं को हो रहा विस्तार

राजनांदगांव,  छत्तीसगढ़ की राजनांदगांव नगर पालिका सहित जिले में एक ही दिन में 1284 कोरोना संक्रमित मरीज सामने आये और लगभग दर्जनभर लोगों की...

जीटीए का स्थायी राजनीतिक समाधान निकाला जायेगा: शाह

लेबोंग,  केंन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को दार्जिलिंग हिल्स के लोगों को आश्वासन दिया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) गोरखालैंड क्षेत्रीय प्रशासन...

एम्स में खाली बेड कोरोना मरीजों के लिए-शिवराज

भोपाल,  मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकरण के संबंध में चिंता जाहिर करते हुए कहा कि...