ईरान को खत्म करने अमेरिका के लिए साथ आया अब ये मुस्लिम मुल्क!

0
53

ईरान को एक के बाद एक चेतावनी मिल रही है | पर अब बड़ी कार्यवाही का एलान हुआ है। सऊदी अरब के एक शीर्ष राजनयिक ने कहा कि उनका देश युद्ध नहीं चाहता, लेकिन वह ईरान के खिलाफ अपनी रक्षा करने से हिचकिचाएगा नहीं। उन्होंने यह बयान इसलिए दिया है क्योंकि एक सप्ताह पहले संयुक्त अरब अमीरात के तट पर तेल के 4 टैंकरों को कथित तौर पर निशाना बनाया गया था। साथ ही ईरान समर्थित यमन के बागियों ने सऊदी अरब की तेल की पाइपाइन पर ड्रोन हमला करने का दावा भी किया था। इससे पहले ईरान को अमेरिका भी चेतावनी दे चुका है | अमेरिका ने कहा है कि यदि ईरान लड़ाई चाहता है तो उसका विनाश हो जाएगा। ट्रम्प ने यह चेतावनी बगदाद में अमेरिकी दूतावास के निकट एक रॉकेट के गिरने की खबर के बाद दी थी । ट्रंप ने ईरान को चेतावनी देते हुए ट्वीट किया, ‘यदि ईरान लड़ाई चाहता है तो यह ईरान का आधिकारिक अंत होगा। अमेरिका को फिर धमकी मत देना।’

दूसरी ओर, ईरान के अधिकारियों ने कहा है कि वे युद्ध नहीं चाहते हैं। सऊदी अरब के विदेश मामलों के राज्यमंत्री अदेल अल-जुबेर ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि ईरान से किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए वह सक्षम हैं। विदेश मामलों के राज्यमंत्री ने कहा, ‘सऊदी अरब क्षेत्र में युद्ध नहीं चाहता है और वह इसकी कोशिश नहीं कर रहा है | लेकिन यदि अन्य पक्ष युद्ध चुनता है तो सऊदी अरब पूरी ताकत और प्रतिबद्धता के साथ इसका मुकाबला करेगा। अपनी, अपने नागरिकों और अपने हितों की रक्षा करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here