अर्थव्यवस्था में ऐसा क्या हुआ कि खुश हो गईं वित्त मंत्री!

0
41

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर उम्मीद जताई है । उन्होंने कहा है कि स्थिति सुधर रही है और जल्दी ही भारत मे मंडी का दौर खत्म होगा । निजी क्षेत्र के बैंकरों, वित्तीय संस्थानों के साथ हुई बैठक के बाद उन्होंने सकारात्मक संदेश दिए । बता दें कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण शुक्रवार शाम साढ़े चार बजे प्रेस कांफ्रेंस करेंगी।

गुरुवार को वित्तीय संस्थानों के साथ हुई बैठक के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन ने कहा कि स्थिति सुधार रही है और चीज़े आगे बढ़ रही हैं । उन्होंने कहा कि त्योहारी मौसम में खपत बढ़ने के साथ दूसरी छमाही में आर्थिक गतिविधियों के पटरी पर लौटने की उम्मीद है । वित्त मंत्री ने कहा कि मैंने किसी से नकदी की समस्या होने के बारे में नहीं सुना है। अर्थव्यवस्था में सुस्ती के लिए बाजार में नकदी की तंगी को बड़ी अड़चन माना जा रहा है । वित्त मंत्री ने निजी क्षेत्र के बैंकरों के हवाले से कहा कि वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री में गिरावट चक्रीय है ।

वित्त मंत्री ने होमलोन को लेकर कहा कि सस्ते मकानों की योजना के लिए ऋण की अच्छी मांग है । बैंकरों ने इसकी सीमा 45 लाख रुपये से बढ़ाकर 50 लाख रुपये करने की मांग की है । उन्होंने बताया कि ऋण देने के लिए निजी क्षेत्र के बैंक भी सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के साथ 400 जिलों में खुले में बैठकर ऋण वितरण कार्यक्रम से जुड़ेंगे । इसके तहत तीन सितंबर से सात सितंबर तक 250 जिलों में पहले चरण का संपर्क अभियान आयोजित किया जाएगा ।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here