Saturday, November 28, 2020

मनप्रीत और चिंगलेनसना जैसे अनुभवी खिलाड़ियों से बहुत कुछ सीखा : जसकरन सिंह

Must read

तेजस्वी और नीतीश कुमार के बीच अब हो रही भिड़ंत विधानसभा स्पीकर को लेकर , जाने कौन बनेगा स्पीकर

  बिहार विधानसभा से इस वक्त की बड़ी खबर निकल कर सामने आ रही है. महागठबंधन ने स्पीकर के लिए अपना उम्मीदवार उतारने का फैसला...

बड़ी खबर : भारत ने चीन को फिर दिया झटका, 43 चीनी ऐप्स को किया बैन….

चीन पर मोदी सरकार ने एक बार फिर से डिजिटल स्ट्राइक कर दी है। भारत की रक्षा और सुरक्षा के लिए खतरा बताते हुए...

मास्क लगाने व दो गज की दूरी में लापरवाही के कारण बढ़ रहा संक्रमण : CM अशोक गहलोत

जयपुर : मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि बीते दिनों त्यौहारी सीजन, चुनाव, सर्दी के मौसम तथा विवाह आयोजनों के कारण प्रदेश में कोरोना...

मुंबई 26/11 Attack : मुंबई का काला दिन, जानें क्या हुआ था उस दिन…

मुंबई में 26 नवंबर 2008 को हुए आतंकी हमले की आज 11वीं बरसी है। इस हादसे ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया था।...

बेंगलुरु। भारतीय पुरुष हॉकी टीम के मिडफील्डर जसकरन सिंह ने कहा कि उन्होंने राष्ट्रीय शिविर के दौरान मनप्रीत सिंह और चिंगलेनसना सिंह कंगुजम जैसे अनुभवी खिलाड़ियों से बहुत कुछ सीखा है। जसकरन सिंह राष्ट्रीय टीम के लिए छह मैच खेले हैं।

26 वर्षीय जसकरन अपने खेल में बेहतर होने के लिए लगातार अपने वरिष्ठ खिलाड़ियों से बात कर रहे हैं।

जसकरन ने कहा, “पिछले साल छह मैच खेलना बहुत अच्छा था। मैंने अभी अपना अंतरराष्ट्रीय करियर शुरू किया है। मनप्रीत सिंह और चिंगलेनसाना सिंह के साथ अभ्यास करना काफी अच्छा है।”

उन्होंने कहा, “मैंने उनसे केवल हॉकी तकनीक के बारे में ही नहीं, बल्कि मैदान से बाहर के पहलुओं के बारे में भी बहुत कुछ सीखा है। मैं हॉकी के खेल के बारे में ज्ञान प्राप्त करने और एक खिलाड़ी के रूप में बेहतर होने के लिए अपने वरिष्ठों मनप्रीत और चिंगलेनसाना से लगातार बात करता रहता हूं। दोनों ने भारत के लिए 200 से अधिक मैच खेले हैं और उनके पास अपने अनुभवों को साझा करने के लिए बहुत कुछ है।

मिडफील्डर ने कहा कि भारतीय टीम के एक बार फिर से प्रतिस्पर्धा शुरू करने से पहले वह अंतरराष्ट्रीय सर्किट में अधिक से अधिक खेलना चाहते हैं।

उन्होंने कहा,”मैं निश्चित रूप से अंतरराष्ट्रीय सर्किट में अधिक एक्सपोजर देख रहा हूं। मैं इस समय छोटे लक्ष्य रखना चाहता हूं और बहुत बड़े लक्ष्यों के बारे में नहीं सोचना चाहता।”

उन्होंने कहा, “जितना अधिक मैं उच्चतम स्तर पर खेलता हूं, उतना ही बेहतर होता जाऊंगा। यह मेरी क्षमताओं पर विश्वास करने के बारे में है और जब मैं नियमित आधार पर शीर्ष टीमों के खिलाफ खेलूंगा, तो मुझे अपनी क्षमताओं पर पूरा भरोसा होगा।”

यह पूछे जाने पर कि उन्होंने लॉकडाउन में अपना समय कैसे बिताया, जसकरन ने कहा कि उन्हें सकारात्मक रहने का एक तरीका मिला और उन्होंने अपनी फिटनेस को बनाए रखने पर बहुत ध्यान दिया।

उन्होंने कहा, “लॉकडाउन चरण सभी के लिए कठिन था, लेकिन हमने अपनी फिटनेस ड्रिल के माध्यम से सकारात्मक बने रहने का एक तरीका ढूंढ लिया। मैंने अपनी फिटनेस बनाए रखने के लिए अपनी सारी ऊर्जा लगा दी। हॉकी इंडिया के समर्थन ने इस कठिन समय में हमारी काफी मदद की है।”

“हमें हॉकी इंडिया और भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) द्वारा हर चीज का ख्याल रखने से कुछ भी चिंता करने की ज़रूरत नहीं थी। हम खेल गतिविधियों के लिए पिच पर वापस आने के बारे में बहुत रोमांचित हैं। अभी, हम बस अपना सर्वश्रेष्ठ देने और सुधार करने के लिए देख रहे हैं।”

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

चीनी वैज्ञानिकों का Corona Virus को लेकर दावा- भारत ने दुनियाभर में फैलाया वायरस

नई दिल्ली : दुनियाभर में कोरोना वायरस फैलाने वाला चीन अब भारत के सिर पर कोरोना का दोष मारन। ये बात कुछ अजीब लग...

LJP का 20वां स्थापना दिवस आज, चिराग ने पर्सनल अटैक पॉलिटिक्स के लिए नीतीश-तेजस्वी दोनों को दोषी बताया

आज एलजेपी का 20वां स्थापना दिवस है और पार्टी कोरोना से बचाव के बीच LJP स्थापना दिवस समारोह मनाएगी. पार्टी ने पहले ही यह...

U.P : केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति हुई कोरोना संक्रमित, AIIMS दिल्ली किया रेफर

कानपुर : केंद्रीय ग्रामीण विकास राज्यमंत्री और फतेहपुर की सांसद साध्वी निरंजन ज्योति कोरोना संक्रमित होने पर उन्हें बेहतर इलाज के लिए कानपुर के...

PM मोदी ज़ायडस बायोटेक पहुंचे, कोरोना ट्रायल वैक्सीन का करेंगे निरीक्षण

अहमदाबाद : एक ओर अहमदाबाद में जहां भारत बायोटेक की 'कोवैक्सीन' का परीक्षण शुरू हो गया है वहीं दूसरी ओर जायडस फार्मा की कोरोना...

Breaking news : यूपी में लव जिहाद पर लगाम लगाने वाले अध्यादेश को राज्यपाल की मिली मंजूरी, आज से लागू हुआ कानून

उत्तर प्रदेश में लव जिहाद के खिलाफ राज्य सरकार द्वारा पारित अध्यादेश को अब राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने भी मंजूरी दे दी है। इसी...