Wednesday, April 14, 2021

जानिए क्यों मछुआरों के साथ समुद्र में उतरे राहुल

Must read

मंदिर में शादी कर लांखो की नकदी और जवैलरी लेकर रफूचक्कर हुई लूटेरी दुल्हन

जनपद मुज़फ्फरनगर के थाना भौरा कलां क्षेत्र के गांव मोहम्मदपुर रायसिंह निवासी किसान देवेंद्र मलिक एक महिला और एक रिस्तेदार के हाथों ठगी का...

इंडोनेशिया में 6.1 तीव्रता भूकंप, आठ की मौत

जकार्ता, इंडोनेशिया के जावा प्रांत में आये 6.1 तीव्रता वाले भूकंप से कम से कम आठ लोगों की मौत हो गई और 39 लोग...

भाजपा किसी भी स्तर पर जाकर चुनाव लड़ती है,अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि आगामी वर्ष 2022 में उत्तर प्रदेश का चुनाव देश का...

पुलिस को मिली बड़ी सफलता,अवैध रूप से चल रही पटाखा फैक्ट्री का भंडाफोड़

सहारनपुर के थाना कुतुबशेर के मानकमउ रियासी इलाके में तीन घरों में भारी मात्रा में अवैध पटाखे बनाये जाने की सूचना पर पुलिस ने...

कोल्लम, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी गहरे समुद्र में मछली पकड़ने के अनुबंध से संबंधित विवाद के खिलाफ प्रतीकात्मक प्रदर्शन का हिस्सा बनने के लिए बुधवार को यहां मछुआरों के साथ समुद्र में उतरे।

गांधी कोल्लम के पास वाडी तट से तड़के करीब 05.15 बजे एक नाव में रवाना हुए और मछुआरों के साथ समुद्र में जाल डालकर मछली भी पकड़ी। वह करीब पौने आठ बजे वापस लौटे।

उन्होंने अपनी समुद्री यात्रा के बारे में पूछे जाने पर कहा कि वह मछुआरों के जीवन का अनुभव करना चाहते हैं। वह मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी नीत लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट सरकार की कथित गलत नीतियों के कारण मछुआरों के सामने आने वाली समस्याओं पर उनके साथ चर्चा करने से पहले समुद्र में गये।

उन्होंने कहा, “मैं आज तड़के अपने भाइयों के साथ समुद्र में गया था। मैं देखना चाहता था कि वे ट्रॉलर के साथ क्या करने जाते हैं। हमने मछली पकड़ने की कोशिश की, लेकिन केवल एक ही मिली। हम खाली जाल के साथ वापस आ गये। यह मेरा अनुभव था।” उन्होंने कहा कि उन्हें ऐसा लगता है कि मछुआरों के लिए समर्पित मंत्रालय नहीं होने के कारण मछुआरों के हितों की रक्षा नहीं हो पा रही है|

ये भी पढ़े- एसएसएफ के जरिये मेट्रो और वीआईपी सुरक्षा को लेकर फोर्स का किया गठन-योगी

इस मुद्दे पर प्रतिक्रिया देते हुए, केरल विधानसभा में विपक्ष के नेता रमेश चेन्निथला ने पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष को मछुआरों के दैनिक जीवन में आने वाली कठिनाइयों को समझने के लिए समुद्र में उनके साथ सुबह बिताने के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा, “यह साबित करता है कि यूडीएफ और कांग्रेस पार्टी लोगों की आवाज सुनने और समझने के लिए प्रतिबद्ध है।”

इससे पहले राज्य सरकार ने गहरे समुद्र में मछली पकड़ने के लिए अमेरिका की एक कंपनी ईएमसीसी इंटरनेशनल और सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम केरल राज्य अंतर्देशीय नौवहन निगम के बीच एक समझौता ज्ञापन रद्द कर दिया।

गांधी के साथ कांग्रेस महासचिव के सी वेणुगोपाल, सांसद एवं राष्ट्रीय मछुआरा कांग्रेस के अध्यक्ष टी एन प्रथपन और अन्य वरिष्ठ नेता भी थे।

कांग्रेस नेता मंगलवार शाम को ऐश्वर्य यात्रा के समापन के बाद सरकारी सचिवालय के सामने धरना दे रहे पीएससी रैंक धारकों से भी मिले और उनके आंदोलन को अपना समर्थन दिया।

- Advertisement -

More articles

Latest article

मंदिर में शादी कर लांखो की नकदी और जवैलरी लेकर रफूचक्कर हुई लूटेरी दुल्हन

जनपद मुज़फ्फरनगर के थाना भौरा कलां क्षेत्र के गांव मोहम्मदपुर रायसिंह निवासी किसान देवेंद्र मलिक एक महिला और एक रिस्तेदार के हाथों ठगी का...

अजमेर में भगवान झूलेलाल की ज्योत एवं प्रतिमा का जुलूस निकाला

अजमेर,  राजस्थान में अजमेर में सिंधी समाज के इष्टदेव भगवान झूलेलाल के अवतरण दिवस चेटीचंड के मौके पर आज भगवान झूलेलाल की ज्योत एवं...

राजनांदगांव में कोरोना संक्रमण बढ़ा, सुविधाओं को हो रहा विस्तार

राजनांदगांव,  छत्तीसगढ़ की राजनांदगांव नगर पालिका सहित जिले में एक ही दिन में 1284 कोरोना संक्रमित मरीज सामने आये और लगभग दर्जनभर लोगों की...

जीटीए का स्थायी राजनीतिक समाधान निकाला जायेगा: शाह

लेबोंग,  केंन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को दार्जिलिंग हिल्स के लोगों को आश्वासन दिया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) गोरखालैंड क्षेत्रीय प्रशासन...

एम्स में खाली बेड कोरोना मरीजों के लिए-शिवराज

भोपाल,  मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकरण के संबंध में चिंता जाहिर करते हुए कहा कि...