विश्व कप में भारत हरा देगा साउथ अफ्रीका को बशर्ते….

0
114

 

विश्व कप 2019 शुरू हो चुका है। 10 टीमें इस टूर्नामेंट में खेल रही है। अब तक कई मैच भी हो गए है। साउथ अफ्रीका, पाकिस्तान, ऑस्ट्रेलिया, अफ़ग़ानिस्तान और टूर्नामेंट की फ़ेवरेट मानी जा रही इंग्लैंड जैसी टीमों के मैच हो गए हैं। साउथ अफ्रीका के दो मैच हो गए है जिसमे से वह एक भी मैच नही जीत सकी है। साउथ अफ्रीका को इंग्लैंड और बांग्लादेश से हार सामना करना पड़ा। अब वह टूर्नामेंट में बने रहने के लिये अपना तीसरा मैच जीतने की पूरी कोशिश करेगी। साउथ अफ्रीका को अपना तीसरा मैच भारत के खिलाफ खेलना है। भारतीय टीम भी इस टूर्नामेंट में फेवरेट बनी हुई है । बांग्लादेश से हारने के बाद साउथ अफ्रीका अपना तीसरा मैच नही हारना चाहेगी। भारतीय टीम इस समय बहुत अच्छी फॉर्म में है। भारत अगर तीनो क्षेत्रों में अच्छा प्रदर्शन करता है तो साउथ अफ्रीका को हराना आसान होगा।

भारतीय टीम को साउथ अफ्रीका को हल्के में नही आंकना होगा। भले ही बांग्लादेश जैसी टीम से साउथ अफ्रीका को हार का सामना करना पड़ा हो लेकिन उसके के पास वर्ल्ड क्लास बैटिंग लाइन अप है। डु प्लेसिस की कप्तानी में साउथ अफ्रीका भारत को बड़ी चुनौती देगा। बंगलादेश के खिलाफ खेले गए मैच में भी साउथ अफ्रीका के ज्यादातर बल्लेबाजो को अच्छी शुरुआत मिली थी लेकिन वह इन शुरुआतो को बड़े स्कोर में तब्दील करने में असमर्थ रहा था। अफ्रीका के पास अच्छे बल्लेबाजो के साथ गेंदबाज़ी भी अच्छी है। कागिसो रबाडा एक बेहतरीन गेंदबाज़ है जो किसी भी बल्लेबाज़ को किसी भी समय आउट कर सकते है। इमरान ताहिर जैसे स्पिनर से भी साउथ अफ्रीका को बेहद मदद मिलेगी।

भारतीय टीम की बल्लेबाजी मे बहुत दम है। ओपनर शिखर धवन ने आईसीसी के टूर्नामेंट में बेहद अच्छा प्रदर्शन किया है। उनका साथ देंगे रोहित शर्मा। उनकी काबिलियत को हर कोई जानता है। जब वे 100 रब बना लेते है तो लोगो को उम्मीदे होती है कि यह अब 200 बना लेंगे। फिर आते है टीम के कप्तान विराट कोहली जिनकी बल्लेबाजी का दुनियाभर में बोलबाला है। कोहली के बाद 4 नंबर पर केएल राहुल का लगभग टीम में खेलना तय माना जा रहा है क्योंकि प्रैक्टिस मैच में उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया था। राहुल के बाद आएंगे पूर्व कप्तान और भारतीय टीम के सबसे सीनियर खिलाड़ी महेंद्र सिंह धोनी। धोनी ने भी प्रैक्टिस मैच में शानदार शतक जड़ा था। धोनी के बाद हार्दिक पांड्या, रविन्द्र जडेजा और इनके बाद आएंगे भारतीय गेंदबाज़ भुवनेश्वर कुमार, शमी अहमद और डेथ ओवर स्पेशलिस्ट जसप्रीत बुमराह। कुछ इस तरह की टीम होने की पूरी संभावना है। अगर भारत का बैटिंग लाइनअप चल गया तो साउथ अफ्रीका की मुश्किलें बढ़ जाएंगी। भारतीय टीम अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर साउथ अफ्रीका को बैकफुट पर खड़ा कर सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here