Thursday, January 21, 2021

Gujarat: कोरोना की वैक्सीन की खेप सड़क मार्ग से सूरत पहुंची

Must read

किसानों से बात करेगी आज फिर सरकार, किसानों ने उठायी फिर एक नई मांग

नई दिल्ली, तीन कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के बीच केंद्र सरकार और किसान संगठनों के बीच आज 10वें दौर की बातचीत होगी। किसान...

कृषि कानूनों का ड्राफ्ट 2012 में बना था : अभय चौटाला

तोशाम,  इंडियन नेशनल लोकदल नेता अभय चौटाला ने आज आरोप लगाया कि आज जो कृषि कानून बने हैं, उनका ड्राफ्ट 2012 में बना था। कृषि...

आगामी 2022 विधानसभा चुनाव से प्रेरित हो सकता है इस बार का बजट?

उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सभी की नजर योगी सरकार के अगले बजट पर है। ऐसे में इस बजट को सबसे...

पाप धोने के लिए पुतिन ने लगाई बर्फीले पीनी में डुबकी

रूसी राष्ट्रपति राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने मंगलवार यानी 19 जनवरी को माइनस 14 डिग्री तापमान में बर्फीले पानी में आस्था की डुबकी लगाई। रूसी राष्ट्रपति...

Gujarat सूरत, गुजरात में कोरोना के टीके की पहली खेप कल हवाई मार्ग से अहमदाबाद पहुंची थी,

एक दिन बाद आज इसकी दूसरी खेप सड़क मार्ग से सूरत पहुंच गयी।

पुणे स्थित दुनिया के सबसे बड़े टीका निर्माता निजी संस्थान सीरम इंस्टीच्यूट से 93500 कोविशील्ड रश वैक्सीन टीके लेकर सड़क मार्ग से आयी,

विशेष वैन का स्वास्थ्य राज्य मंत्री कुमार किशोर कानाणी ने औपचारिक स्वागत किया।
पहले चरण में टीकाकरण की प्रक्रिया 16 जनवरी से राज्य भर में 287 केंद्रो पर होगी।

Gujarat 22 सूरत शहर में होंगे

जिनमे से 22 सूरत शहर में होंगे।

आज यहां जो टीके लाए गए हैं

उनका इस्तेमाल दक्षिण गुजरात के सूरत, नवसारी, वलसाड, तापी और डांग, इन पांच ज़िलो के लिए किया जाएगा।

इन टीकों को यहां सिविल अस्पताल में बनाए गए विशेष संग्रहण स्थल पर रखा गया है।
इससे पहले राज्य के उप मुख्यमंत्री सह स्वास्थ्य मंत्री नितिन पटेल ने कल

सीरम इंस्टीच्यूट से 2 लाख 76 हज़ार कोविशील्ड रश वैक्सीन टीके की पहली खेप

लेकर एयर इंडिया की उड़ान से आए दल का स्वागत किया था।

Gujarat ये भी पढ़े-UP: इटावा मे कामगार की ईंटो से कूचकर हत्या, जानें क्या है पूरा माम 

इस टीके को सुरक्षित रखने के लिए 2 से 8 डिग्री सेल्सियस का तापमान बनाए रखना ज़रूरी है।
टीकाकरण के पहले चरण में कोरोना योद्धाओं जैसे कि डाक्टर, नर्स, पुलिस, सफ़ाईकर्मी आदि को प्राथमिकता दी जाएगी,
और यह निशुल्क होगा।

ऐसे लोगों की पूरी सूची तैयार कर ली गयी है।

मुख्यमंत्री और अन्य राजनीतिक लोग इसके बाद टीका लेंगे।

दूसरे चरण में 50 साल से अधिक उम्र के तथा मधुमेह और रक्तचाप जैसे रोगों के

किसी भी उम्र के पीड़ितों को टीके दिए जायेंगे।

इसमें कोरोना प्रतिरोधक क्षमता एक महीने के अंतर पर दो डोज़ लेने के 15 दिन बाद पैदा होगी।
ज्ञातव्य है कि पहले चरण में देश भर में तीन करोड़ लोगों को निशुल्क टीकाकरण की केंद्र सरकार की योजना है।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

अजमेर ग्रामीण की नौ पंचायतों में 22 जनवरी को होगा मतदान

अजमेर,  राजस्थान में पंचायत चुनाव-2021 के तहत अजमेर ग्रामीण की नौ ग्राम पंचायतों पर 22 जनवरी को मतदान होगा। जिला निर्वाचन विभाग सूत्रों के...

जानिए राहुल को हटाकर क्यों बनेगे गहलोत कांग्रेस अध्यक्ष ?

नई दिल्ली, राहुल गाँधी के इस्तीफा देने के बाद से ही कांग्रेस में अध्यक्ष पद खाली चल रहा है। उनकी मां सोनिया गांधी फिलहाल पार्टी...

आबकारी टीम ने इतने शराब तस्करों को किया गिरफ्तार

बालाघाट,मध्यप्रदेश के बालाघाट जिले के वारासिवनी के कौथूरना चौक पर आबकारी विभाग की टीम ने दो शराब तस्करों को गिरफ्तार कर उनके पास से...

सेंसेक्स पहुंचा इतने हजारी के पार,निफ्टी भी इतने अंक चढ़ा

मुंबई, अनुकूल बजट की उम्मीद में घरेलू शेयर बाजारों में आज लगातार तीसरे दिन लिवाली का जोर रहा और बीएसई का 30 शेयरों वाला...

दिल्ली का न्यूनतम तापमान इतना डिग्री पहुंचा, वायु गुणवत्ता बेहद खराब

नई दिल्ली, राष्ट्रीय राजधानी में गुरुवार को न्यूनतम तापमान 7.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। मौसम विभाग ने पूर्वानुमान में बताया कि राजधानी में अधिकतम...