ये 6 अरब डॉलर न मिलते तो मर जाता पाकिस्तान!

0
210

पाकिस्तान भीषण आर्थिक तंगी से जूझ रहा है। इस बीच पाकिस्तान के लिए अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष से राहत देने वाली खबर आयी है | पाकिस्तान का IMF के साथ समझौता हो गया है | अब पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष तीन साल में छह अरब डॉलर देगा | आईएमएफ से पाकिस्तान की यह डील अगले तीन साल के लिए हुई है|

हालांकि, यह समझौता अभी स्टाफ के स्तर पर हुआ है| इसे औपचारिक मंजूरी मिलना बाकी है| अधिकारियों के बीच बातचीत के बाद वाशिंगटन में आईएमएफ बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स इस समझौते को मंजूरी देगा, जिसके बाद ही पाकिस्तान को आर्थिक मदद का रास्ता पूरी तरह साफ हो पाएगा| बता दें कि पाकिस्तान भयंकर आर्थिक संकट से गुजर रहा है और वहां के प्रधानमंत्री इमरान खान के सामने सबसे बड़ी चुनौती पाकिस्तान को इस हालत से उबारना है| यही वजह है अगस्त 2018 में पाकिस्तान की कमान मिलने के बाद से ही इमरान सरकार आईएमएफ से इस राहत पैकेज की गुहार लगा रही थी| जिसे आईएमएफ ने फिलहाल मान लिया है|

आर्थिक तंगी से जूझ रहे पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) से 6 अरब डॉलर का बेलआउट पैकेज तो मिल गया है, लेकिन इसके बाद भी पाकिस्तान के हालात बदलेंगे या नहीं ये कहना मुश्किल है| IMF के साथ तीन महीने तक बातचीत करने के बाद पाकिस्तान को मदद मिल गई है| मगर इस बार IMF ने कड़े मापदंड के साथ पाकिस्तान की मदद की है | आपको बता दे कि यह 22वीं बार है जब पाकिस्तान के हालात इतने बदतर हो गए की उन्हें IMF की शरण में जाने को मजबूर होना पड़ा हैं | वित्त, राजस्व एवं आर्थिक मामलों पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के सलाहकार डॉ अब्दुल हफीज शेख ने खुद इस बात की जानकारी दी है कि आईएमएफ पाकिस्तान को अगले तीन साल के 6 अरब अमेरिकी डॉलर का बेलआउट पैकेज देगा |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here