बबुआ के लिए बुआ की गुहार, मोदी की साज़िश से बचाओ

0
225

आजमगढ़ में बसपा प्रमुख मायावती और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की संयुक्त रैली हुई | इस रैली को संबोधित करते हुए मायावती ने कहा कि हमारे गठबंधन को महामिलावटी बताया जा रहा है, जबकि जाति के आधार पर पीएम नरेंद्र मोदी तो खुद ही महामिलावटी हैं | अखिलेश असल में पिछड़े वर्ग के हैं, पीएम मोदी की तरह फर्जी नहीं हैं | मायावती ने रैली के दौरान लोगो से गठबंधन के प्रत्याशी को रिकॉर्ड वोटों से जिताने की अपील की | इस दौरान मायावती ने कांग्रेस और बीजेपी पर जमकर निशाना साधा | उन्होंने कहा कि आज जो आरक्षण का लाभ दलितों और आदिवासियों को मिला है, उसका विरोध कांग्रेस और बीजेपी करती आई है |

मायावती ने रैली में मौजूद लोगो की ओर देख कर कहा कि इस भीड़ को देखकर लगता है कि गठबंधन की जीत तय है | उन्होंने कहा एक साजिश के तहत अखिलेश यादव के खिलाफ उन्हीं की जाति के दिनेश लाल यादव (निरहुआ) को बीजेपी ने प्रत्याशी बनाया है | मायावती ने कहा, “बीजेपी फूट डालो और राज करो की नीति के तहत काम कर रही है | यही वजह है कि अखिलेश के खिलाफ उनकी ही जाति के प्रत्याशी को मैदान में उतारा गया है | गठबंधन के लोग बीजेपी के उम्मीदवार को बुरी तरह से हराएंगे, ताकि यह व्यक्ति भविष्य में कोई भी चुनाव लड़ने की हिम्मत न जुटा पाए |”

मायावती ने अखिलेश यादव पर बुआ और भतीजे के रिश्ते को लेकर हो रहे हमले का मुद्दा भी उठाया। उन्होंने कहा, “बीजेपी जाति, धर्म, राष्ट्रवाद और आतंकवाद के नाम पर बरगलाने की कोशिश कर रही है | इतना ही नहीं बीजेपी वाले हमारे बीच बने संस्कारी रिश्तों पर भी तरह-तरह के बातें कर रहे हैं | ये लोग हमारी संस्कृति और सभ्यता के आधार पर बने रिश्तों पर ही तंज कस रहे हैं | लेकिन, हमारा यह रिश्ता भारतीय सभ्यता को ध्यान में रखकर सामाजिक महापरिवर्तन का रिश्ता है।”मायावती ने अपने भाषण के दौरान अन्य कई मुद्दों पर भी बीजेपी व कांग्रेस को घेरा | उन्होंने कहा “गठबंधन को नुकसान पहुंचाने के लिए कांग्रेस ने प्रत्याशी खड़े किए | इनके बहकावे में नहीं आना है | वोट सिर्फ गठबंधन को ही देना है | अगर केंद्र में गठबंधन की सरकार बनी तो किसी को 6 हजार रुपए नही बल्कि सभी को नौकरी दी जाएगी | ”

आजमगढ़ सीट से खुद चुनाव लड़ रहे अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी ने लोगों से जो वादा किया था, वह पूरा नहीं किया | अब वह वादों की बात नहीं करते हैं | किसानों के यूरिया और खाद की चोरी हुई, युवाओं को रोजगार नहीं मिला, किसी भी योजना से देशवासियों को लाभ नहीं पहुंचा पाए | ये चायवाला बनकर आए और धोखा दे दिया | अब वही चौकीदार बनकर आ गए हैं |
योगी सरकार पर भी निशाना साधते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि आज सूबे में कानून व्यवस्था चौपट है | इनके ठोंको नीति को पुलिस भी नहीं समझ पा रही है | कभी पुलिस बेगुनाहों को ठोक देती है, तो कभी जनता पुलिस को ठोक देती है | चौकीदार के साथ-साथ ठोकीदार को भी हटाना है | अखिलेश ने महागठबंधन के पक्ष में वोट करने की अपील की |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here