Friday, May 14, 2021

गांवो में नल से जल के लिए उज्जैन में हो रहे 300 करोड़ रूपये के कार्य

Must read

अंबाला: प्रशासन की बड़ी कार्रवाई, कोच फैक्टरी से 500 ऑक्सीजन सिलेंडर किए बरामद

अंबाला. देश भर में कोरोना के हाहाकार के बीच हो रही मौतों पर सारा देश खून के आंसू रो रहा है.  लेकिन इसी बीच कुछ...

तमिलनाडु में 10 से 24 मई के बीच पूर्ण लॉकडाउन

चेन्नई, तमिलनाडु में कोरोना वायरस के मामलों में तेजी से हो रही वृद्धि के कारण इसके प्रसार को रोकने के लिए 10 से 24...

औरैया में कोविड फैसिलिटी देखने के लिए छह अधिकारी तैनात

औरैया, उत्तर प्रदेश के औरैया जिला अस्पताल की कोविड फैसिलिटी की देखरेख के लिए छह जिला स्तरीय अधिकारियों की 15 दिन के लिए तैनाती...

मणिपुर के सात जिलों में कर्फ्यू

इम्फाल  मणिपुर सरकार ने कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप के मद्देनजर राज्य के सात जिलों में शनिवार से कर्फ्यू लागू कर दिया। आधिकारिक जानकारी के...

भोपाल, मध्यप्रदेश के उज्जैन के गांवों में नल से पेयजल की आपूर्ति किए जाने के लिए 300 करोड़ रूपये के कार्यो को स्वीकृति दी है।

आधिकारिक जानकारी के अनुसार प्रदेश की पूरी ग्रामीण आबादी को शुद्ध पेयजल की समुचित व्यवस्था किए जाने की दिशा में राज्य सरकार के प्रयास तेजी से जारी हैं। नल कनेक्शन से हर घर में पेयजल की आपूर्ति किए जाने के लिए पीएचई विभाग और जल निगम द्वारा जलसंरचनाओं की स्थापना एवं विस्तार के कार्य किए जा रहे हैं।

लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा उज्जैन संभाग में 365 जलप्रदाय योजनाओं का कार्य जारी है। जलप्रदाय योजनाओं की लागत 300 करोड़ 09 लाख 58 हजार रूपये है, जिनमें उज्जैन जिले की 78, देवास 68, शाजापुर 43, आगर-मालवा 28, रतलाम 84 मंदसौर 42 तथा नीमच की 22 जलसंरचनायें शामिल हैं। इन जिलों के विभिन्न ग्रामों में पूर्व से निर्मित पेयजल अधोसंरचनाओं को नये सिरे से तैयार कर रेट्रोफिटिंग के तहत भी कार्य किये जा़ रहे हैं।

मध्यप्रदेश जल निगम भी उज्जैन संभाग के 38 ग्रामों में नल कनेक्शन के जरिये जल उपलब्ध कराने का कार्य कर रहा है। उज्जैन तथा रतलाम जिलों के इन ग्रामों में 10 हजार 608 नल कनेक्शन दिए जाना प्रस्तावित हैं और इससे 48 हजार से अधिक ग्रामीण आबादी को लाभ पहुँचेगा।

- Advertisement -

More articles

Latest article

आज़म खां की पत्नि ने दिया बड़ा बयान

रामपुर...... शहर विधायक एवम् आज़म खां की पत्नि डॉ तज़ीन फातिमा ने ईद के मौक़े पर कहा कि त्योहार ख़ुशी के लिए मनाये जाते...

बच्चों में कोविड-19 – क्या होते हैं लक्षण, क्या किया जाए

नई दिल्ली. एक तरफ जहां वयस्क और बुजुर्गों में कोविड-19 वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) के लिए होड़ मची हुई है, वहीं फिलहाल एक वर्ग ऐसा भी...

तमिलनाडु और असम में नए मंत्रियों पर कितने हैं आपराधिक केस और कितनी है संपत्ति उनकी, जानें

असम में हुए ताजा चुनावों में 7 फीसद मंत्रियों ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किए हैं। वहीं 14 मंत्रियों की औसतन संपत्ति 4.78...

असम के नगांव में आकाशीय बिजली गिरने से 18 हाथियों की मौत

गुवाहाटी. असम (Assam) के नगांव जिले (Nagaon) में जंगल में आकाशीय बिजली गिरने से 18 हाथियों (Elephants) की मौत हो गई. वन विभाग के एक...

जब असम पहुंचे बंगाल के गवर्नर धनखड़ तो पैरों में गिर पड़ी महिलाएं, जानें वजह

गुवाहाटी-पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने रणपगली में कैंप का दौरा किया और लोगों से मुलाकात की। चुनाव के बाद पश्चिम बंगाल में...